अपने बयानों से चर्चा में रहने वाली BJP सांसद सावित्री बाई फुले ने दिया पार्टी से इस्तीफा

बहराइच: भारतीय जनता पार्टी की बहराइच से सांसद सावित्री बाई फुले ने पार्टी से नाराज होकर गुरुवार को इस्तीफा दे दिया। फुले ने संवाददाताओं से कहा कि अयोध्या में आरएसएस, विहिप और भाजपा द्वारा मुस्लिम, दलित एवं पिछड़ों की भावना को आहत करते हुए संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

PunjabKesari

 

उन्होंने कहा कि विहिप, भाजपा और आरएसएस से जुड़े संगठनों द्वारा अयोध्या में पुन: 1992 जैसी स्थिति पैदा कर समाज में विभाजन एवं सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा करने की कोशिश की जा रही है। इससे आहत होकर मैं भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रही हूं। फूले ने कहा कि भाजपा समाज में विभाजन पैदा करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि लगातार शहरों और नगरों का नाम बदला जा रहा है। बहुजन समाज एवं अल्पसंख्यकों के इतिहास को मिटाया जा रहा है।

PunjabKesari

फूले ने कहा कि भारत का धन अनावश्यक रूप से मूर्तियां बनाने एवं मंदिरों के निर्माण में खर्च किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार देश का विकास ना करके हिन्दू-मुसलमान, भारत-पाकिस्तान और मंदिर-मस्जिद का खौफ दिखाकर आपसी भाईचारे को समाप्त करने का काम कर रही है। फूले ने कहा कि भारत का धन लेकर भगोड़े विदेश भाग रहे हैं और भारत सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के मंत्रियों एवं सांसदों द्वारा धार्मिक उन्माद फैलाकर भारतीय संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। उल्लेखनीय है कि फूले कई मौकों पर पार्टी लाइन से हटकर बयान देकर पहले भी विवादों में रही हैं।

PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!