बरगाड़ी इकट्ठ से पहले फरीदकोट पहुंची एसआईटी

फरीदकोट(हाली): श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी व इसके बाद घटे कोटकपूरा व बहबल कलां कांड के आरोपियों को सजा दिलवाने के लिए गांव बरगाड़ी में पंथक गुटों द्वारा शुरू किए इंसाफ मोर्चे वाली जगह पर 14 अक्तूबर को होने वाले राज्य स्तरीय इकट्ïठ से पहले पंजाब सरकार द्वारा इन मामलों की जांच के लिए गठित की एस.आई.टी ने आज फरीदकोट का दौरा किया।

यहां सर्किट हाऊस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए एस.आई.टी. के चेयरमैन ए.डी.जी.पी. प्रबोध कुमार, आई.जी. अरुण पाल सिंह, कपूरथला के एस.एस.पी. सतिन्द्र सिंह, एस.पी भूपिंदर सिंह व कुंवर विजय प्रताप सिंह ने कहा कि निश्चित समय में निष्पक्ष जांच रिपोर्ट पंजाब सरकार को सौंप देंगे। उन्होंने पंजाब के लोगों को शांति बना रखने व सहयोग देने का अनुरोध किया। एस.आई.टी. ने उन थाना प्रमुखों को जांच में शामिल होने के आदेश दिए हैं जिनकी तैनाती 2015 से लेकर 2018 तक बेअदबी कांड से संबंधित थानों में हुई है। 

मोर्चे का नेतृत्व कर रहे बाबा बलजीत सिंह दादूवाला ने कहा कि कमीशन व एस.आई.टी सरकार ने सिर्फ आंखें पोछने के लिए बनाए हैं। उन्होंने कहा कि 14 अक्तूबर को बरगाड़ी में विशाल इकट्ठ होगा व इंसाफ मिलने तक यह मोर्चा जारी रखा जाएगा। पंजाब सरकार बरगाड़ी मोर्चे में से संगतों का ध्यान हटाने के लिए यत्नशील है जबकि दूसरी ओर आम आदमी पार्टी व सुखपाल सिंह खैहरा बरगाड़ी में बड़े इकट्ठ के लिए प्रचार कर रहे हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED झज्जर में महिला की रेप के बाद हत्या, पुलिस ने किया एसआईटी का गठन