2019 में 65 प्रतिशत बनाम 35 प्रतिशत के बीच की लड़ाई - सुशील

गया: बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव 65 प्रतिशत बनाम 35 प्रतिशत के बीच लड़ाई है। 

बिहार में टूट चुका है महागठबंधन 
गया में बिहार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बुधवार को संपन्न हुई बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए सुशील ने कहा कि बिहार के 65 प्रतिशत मतदाता एनडीए के साथ है इसलिए यहां 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान 65 प्रतिशत बनाम 35 प्रतिशत के बीच लड़ाई है। हम राष्ट्रवाद के वैचारिक अधिष्ठान, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नेतृत्व, अमित शाह के संगठन कौशल व केन्द्र तथा राज्य सरकार के कामों के आधार पर जनता के बीच जाएंगे। उन्होंने कहा कि बिहार में महागठबंधन टूट चुका है। जदयू महागठबंधन का चेहरा था जिसपर पिछले चुनाव में बड़ी जीत मिली थी। दूसरी ओर नीतीश कुमार के आने से एनडीए और मजबूत हुआ है। 

नरेंद्र मोदी जनता की पहली पसंद
सुशील ने गत सोमवार को पेट्रोलियम पदार्थो की बढती कीमतों के विरोध में कांग्रेस के भारत बंद में, जिसे राजद सहित अन्य विपक्षी दलों का समर्थन प्राप्त था तथा गत मंगलवार को राजद की हुई बैठक में पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद के बडे पुत्र तेज प्रताप यादव के शामिल नहीं होने की ओर इशारा करते हुए आरोप लगाया कि उनके परिवार में महाभारत छिड़ चुका है। उन्होंने कहा कि तेज प्रताप यादव घर पर रहते हुए भी राजद की बैठक और यहां तक भारत बंद में भी शामिल नहीं होते हैं। उन्होंने कहा कि यह पारिवारिक संघर्ष जल्द ही गुल खिलाने वाला है। सुशील ने कहा कि नरेन्द्र मोदी आज भी देश की जनता की पहली पसंद हैं। आगामी लोकसभा चुनाव नेतृत्व विहीन विपक्ष और नरेन्द्र मोदी के बीच होने वाला है। 

 


     

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED UP से होकर गुजरता है देश की सत्ता का रास्ता, जानें BJP के लिए पूर्वांचल के मायने