नन यौन उत्पीड़न मामला: पादरी से पूछताछ के लिए जालंधर पहुंची केरल पुलिस

जालंधर(कमलेश, सोनू): जालंधर के रोमन कैथोलिक चर्च बिशप द्वारा एक नन के कथित बलात्कार की जांच कर रही केरल पुलिस शीर्ष पादरी से पूछताछ के लिए आज जालंधर पहुंची हुर्इ है। एक तरफ जहां जालंधर में बिशप हाऊस के बाहर मीडिया इस प्रकरण को जानने के लिए एकत्रित हुआ है वहीं इस मामले को कवर करने के लिए केरल मीडिया भी जांलधर पहुंचा हुआ है।

PunjabKesariडी.सी.पी. गुरमीत सिंह ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि बिशप जालंधर पहुंच चुके है और वह बिशप हाउस के अंदर है। पुलिस ने इस मामले में उनसे कर्इ घंटे पूछताछ की। मीडिया द्वारा जब डी.सी.पी. से पूछा गया क्या केरल पुलिस जालंधर पहुंच चुकी है तो उन्होंने कहा कि केरल पुलिस जालंधर में ही मौजूद है पर सुरक्षा कारणों के चलते उनकी लोकेशन किसी को बतार्इ नहीं जा सकती।

PunjabKesariवहीं सूत्रों के हवाले से पता चला है कि केरल पुलिस पी.ए.पी. में ठहरी हुर्इ है। वहीं जब गुरुवार को पंजाब केसरी टीम ने चर्च के प्रवक्ता फादर पीटर से बात की थी तो उनका कहना था कि बिशप फ्रैंको मुलक्कल किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए डलहौजी हिमाचल प्रदेश गए हुए है। मौके पर डी.सी.पी. गुरमीत सिंह, ए.सी.पी. दलवीर सिंह भुट्टर, एस.एच.ओ. बलबीर सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने चर्च के आस-पास सुरक्षा कड़ी की हुर्इ है।

 

PunjabKesariक्या है मामला
केरल में एक नन ने जालंधर स्थित डायोसीस कैथलिक चर्च के बिशप के खिलाफ यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई है। नन ने आरोप लगाया है कि 2014 में जिले के कुरावलंगद क्षेत्र में एक अनाथालय के नजदीक एक गेस्ट हाउस में पहली बार उससे यौन शोषण किया गया। इसके बाद उसका 14 बार यौन उत्पीडऩ किया गया है। यह नन पंजाब में जालंधर स्थित डायोसीस कैथलिक चर्च के तहत चलने वाले एक संस्थान में काम करती थी। इस संस्थान के मुखिया 54 वर्षीय बिशप फ्रैंको मुलक्कल है। 

× RELATED होली ट्रीनिटी चर्च के फादर एंथनी तरूथी से हुई 4 घंटे 20 मिनट पूछताछ