कैप्टन सरकार ने अब VIP को प्रदत्त सुरक्षा वाहनों को लेकर की जांच शुरू

जालन्धर (धवन): पंजाब में मुख्यमंत्री कै.अमरेन्द्र सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने अब राज्य के वी.वी.आई.पीज को प्रदत्त सुरक्षा वाहनों को लेकर जांच शुरू कर दी है।मुख्यमंत्री ने इसके लिए पहले ही डी.जी.पी. सुरेश अरोड़ा, डी.जी.पी. (इंटैलीजैंस), ए.डी.जी.पी. (सुरक्षा) आर.एन. ढोके व मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय कमेटी बनाई हुई है।

PunjabKesari

सरकारी हलकों ने बताया कि सरकार द्वारा 283 वी.वी.आई.पीज से 428 सुरक्षा कर्मचारी वापस लेने के बाद उच्चस्तरीय कमेटी अब विभिन्न वी.आई.पीज को सरकार द्वारा दी गई सुरक्षा गाडिय़ों व अन्य  वाहनों की जांच करेगी, क्योंकि सरकार के ध्यान में यह बात भी आई थी कि कुछ वी.वी.आई.पीज को जरूरत से ज्यादा सुरक्षा वाहन उपलब्ध करवाए हुए हैं। सरकार व कमेटी के  सदस्यों के ध्यान में यह बात भी लाई गई है कि कुछ लोगों को सुरक्षा वाहन दिए गए हैं परन्तु सुरक्षा की दृष्टि से अब उन्हें इन वाहनों की जरूरत नहीं है, क्योंकि उनकी सुरक्षा को अब कोई खतरा नहीं है, इसलिए इन सुरक्षा वाहनों को वापस लेने की प्रक्रिया भी सरकार द्वारा आने वाले दिनों में शुरू की जा सकती है।
PunjabKesari
यह भी पता चला है कि उच्चस्तरीय कमेटी द्वारा ऐसा करते समय न केवल विपक्षी नेताओं बल्कि कांग्रेस के कुछ नेताओं को प्रदत्त अतिरिक्त वाहनों की समीक्षा किए जाने के आसार हैं।अगले एक महीने के अंदर कमेटी द्वारा सुरक्षा वाहनों को लेकर अपनी रिपोर्ट तैयार कर मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह को सौंप दी जाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED सरकारी खजाना खाली, मगर मालामाल होंगे कैप्टन के राजनीतिक सचिव