साईं जी के दरबार पहली बार जा रहे हैं तो जान लें कुछ बातें

बच्चों के साथ घूमने के लिए हर कोई बेसब्री से उनकी छुट्टियों का इंतजार करता है। हील स्टेशन पर जाने की बजाए कुछ लोग धार्मिक स्थानों पर जाना ज्यादा पसंद करते हैं। इस बार शिरड़ी साईं जी के दरवार जाने का मन है और पहली जा रहे तो पहले कुछ बातों का जान लें। जिससे आपको कोई परेशानी नहीं आएगी। शिरडी मुंबई से करीब 250 किलोमीटर और औरंगाबाद से 110 किलोमीटर दूर है। 

यह है बैस्ट टाइम
वैसे तो आप साल में किसी भी समय शिरडी साईं जी के दरबार जा सकते हैं। किसी धार्मिक स्थान पर जाने के लिए मौसम या समय नहीं देखा जाता लेकिन अक्टूबर से मार्च सबसे अच्छा समय है। इस समय पर जहां पर ज्यादा भीड़ नहीं होती। वीरवार के दिन यहां से बाबा जी की पालकी निकाली जाती है। इस समय वहां पर भीड़ भी बहुत होती है। 

दर्शन करने के लिए समय
भीड़ भाड़ वाले दिनों में दर्शन करने के लिए घंटों इंतजार भी करना पड़ सकता है। आप इस दौरान लाइन का इंतजार नहीं करना चाहते को दर्शन करने के लिए भी यहां पहले से ऑनलाइन बुकिंग करवाई जा सकती है। 

आरती का रजिस्ट्रेशन
साईं जी की आरती दिन में पांच बार होती है। सुबह 4 बजकर 15 मिनट पर सबसे पहले भूपाली आरती की जाती है। उसके बाद 1 बजकल 30 मिनट पर काकड़ आरती, दोपहर के समय 12 बजे मध्यान आरती, शाम को सूर्यास्त के समय धूप आरती और रात 10 बजकर 30 बजे सेज आरती होती है। इस समय नजारा बहुत खूूबसूरत होता है। आप भी इस आरती का हिस्सा बनना चाहते हैं तो वहां जाने से पहले ही आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इससे आपको असुविधा नहीं होगी। 

× RELATED साई बाबा मंदिर को गुरु पूर्णिमा पर मिला 6.66 करोड़ रुपए का दान