पंजाब में 38 हजार किसानों के लिए 209 करोड़ की कर्ज राहत

चंडीगढ़(ब्यूरो): पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह ने सहकारी सोसायटियों से कर्ज लेने संबंधी 38 हजार सीमांत किसानों को 209 करोड़ की कर्ज राहत देने का ऐलान किया है। यह 10 दिनों में बांटी जाएगी जिसके साथ ही सरकार की कर्ज राहत स्कीम का पहला पड़ाव मुकम्मल हो जाएगा।

इस स्कीम की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 2,77,633 सीमांत किसानों को पहले पड़ाव दौरान 1525.61 करोड़ की राहत मुहैया करवाई गई है। उन्होंने बताया कि सहकारी सोसायटियों के मैंबर 3.43 लाख सीमांत किसानों में से 27179 किसान अयोग्य पाए गए हैं। ये किसान सहकारी/अर्ध-सहकारी कर्मचारियों के तौर पर सेवा कर रहे हैं या योग्यता मानदंड पूरे नहीं कर पाए। इसके अलावा 19706 अन्य किसानों ने जरूरी स्व-घोषणा फार्म पेश करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि अगर कोई योग्य किसान स्कीम से बाहर रह गया है तो सब-डिवीजनल मैजिस्ट्रेट के साथ संपर्क कर सकता है।

 

दूसरे पड़ाव में छोटे किसानों को मिलेगी राहत
मुख्यमंत्री ने बताया कि दूसरे पड़ाव दौरान सहकारी सोसायटियों से संबंधित छोटे किसानों को कर्ज राहत बांट दी जाएगी। व्यापारिक बैंकों ने कर्ज लेने वाले किसानों का डाटा अपलोड करने का काम शुरू कर दिया है। उन्होंने कृषि और वित्त विभागों को व्यापारिक बैंकों के कार्य संबंधी पैरवी के लिए कहा है जिससे डाटा तेजी के साथ अपलोड करने को यकीनी बनाया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि सहकारी सोसायटियों से संबंधित सीमांत किसान, जिन्हें 2 लाख की राहत राशि प्राप्त नहीं हुई, वे व्यापारिक बैंकों से लिए कर्जे की बकाया राशि के लिए भी योग्य होंगे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED आरोपियों को सजा मिलने पर ही बरगाड़ी कांड के शहीदों की आत्मा को मिलेगी शांति : मान