शरीर में हार्मोन्स इंबैलेस होने पर दिखते हैं ये लक्षण, इन चीजों को खाकर करें कंट्रोल

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हार्मोन्स में बैलेंस होना बहुत जरूरी है। इसका संतुलन बिगड़ने पर पूरी बॉडी पर बुरा प्रभाव पड़ता है और मानसिक विकास रूक जाता है। हार्मोन्स इंबैलेस होने का कारण तनाव, गलत खान-पान, प्रदूषण और जेनेटिक रीजन है। शरीर में मौजूद अलग-अलग तरह के हार्मोन्स मेटाबॉलिज्म को कंट्रोल करने के साथ ही मूड को भी कंट्रोल करने में मदद करते हैं। आइए जानिए शरीर में हार्मोन्स इंबैलेस होने पर क्या-क्या बुरे प्रभाव पड़ते हैं और इसमें बैलेंस बनाए रखने के लिए किन चीजों को खाना चाहिए?

हार्मोन्स इंबैलेस होने के लक्षण
1. भूख न लगना और मोटापा बढ़ना।
2. बालों का झड़ना।
3. नींद न आना।
4. पीरियड्स रेगुलर न होना।
5. सिर दर्द रहना और याददाशत कमजोर होना।

शरीर में इन बदलावों के देख कर डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए। अगर आपको भी हार्मोन्स इंबैलेस की समस्या हो तो डाइट में इन फूड्स को शामिल करें।
1. रासबेरी के पत्ते
रासबेरी के पत्तों में विटामिन्स और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं। इसकी पत्तियों की चाय बना कर पीने से हेवी ब्लड फ्लो होने से रूकता है। यह पुरूष और महिलाएं दोनों की फर्टिलिटी बढ़ाने में मदद करती है। यह महिलाओं में पीरियड पेन को कम करती है।

2. अश्वगंधा
यह हार्मोन्स इंबैलेस को रोकने के साथ ही स्ट्रेस को कम करने में भी मदद करता है। इसके अलावा यह मूड को फ्रैश करने के साथ  ही एंजाइटी को भी खत्म करता है।

3. जई का ठंठल (OATSTRAW )
इसमें मैग्नीशियम, कैल्शियम, सिलिका पाया जाता है जो स्कलेटल सिस्टम के लिए अच्छा माना जाता है। यह सेंट्रल नर्वस सिस्टम को शांत रखता है और डाइजेशन को अच्छा करने में मदद करता है।

4. निर्गुण्ठी
यह हर्ब हार्मोन इंबैलेस, इनफर्टिलिटी और मिसकेरेज रोकने में मदद करती है।


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED हॉर्मोंस के हेर-फेर का कारण है लाइफस्टाइल की गड़बड़ी, बदलें आदतें