RSS और लंगर पर GST मामले पर जानिए क्या बोले श्वेत मलिक (वीडियो)

अमृतसर: भारतीय जनता पार्टी के पंजाब प्रधान एवं राज्यसभा सांसद श्वेत मलिक ने कहा कि पंजाब कांग्रेस ने केवल चुनाव जीतने के लिए लोगों को बेवकूफ बनाया है। 

मलिक ने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव घोषणापत्र में किए गए एक भी वायदे को पूरा नहीं किया है। भाजपा ने हमेशा समयबद्ध विकास का आश्वासन दिया है, जिसके कारण उन्होंने भारत के लोगों का विश्वास जीता है। यही कारण है कि अब कांग्रेस सत्ता में केवल 2.4 फीसदी है जबकि भाजपा 68.7 फीसदी है। उन्होंने कहा कि घोषणापत्र कानूनी रूप से बाध्य होना चाहिए ताकि पंजाब में कांग्रेस जैसी पार्टियां जो निर्दोष मतदाताओं के विश्वास का दुरुपयोग कर लेती हैं, उन्हें प्रताडि़त किया जा सके। अपने चुनाव पत्र में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पवित्र गुटका साहिब को हाथ में पकड़कर बठिंडा की सभा में केवल चार सप्ताह में पंजाब को नशा मुक्त करने की कसम खाई थी। उन्होंने कहा कि क्या कैप्टन नशा बन्द कर पाए बल्कि नशे के कारोबार को बढ़ावा दिया है। नशा तस्करी चार गुणा बढ़ गई है। 

मलिक ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की शाहकोट रैली में नशों के दूसरे पड़ाव की शुरुआत करने पर तंज करते हुए कहा कि 25 सालों के बाद पंजाब के लोगों ने कांग्रेस को भारी बहुमत से 77 सीटों पर जताया था मगर यह सरकार केवल डेढ़ साल में ही पूरी तरह फ्लॉप हो गई है। उन्होंने कहा कि चुनाव मनोरथ पत्र को एक कानूनी दस्तावेज के तौर पर माना जाना चाहिए ताकि जनता से वायदे कर मुकरने पर उसकी सजा तय हो सके। वहीं उन्होंने लंगर से जीएसटी हटाने के लिए कहा कि वह इसके लिए केंद्र सरकार को विनती करेंगे। आगे उन्होंने कहा कि आर.एस.एस. एक समाजसेवी संस्था है राजनीतिक नहीं। 

× RELATED गठबंधन सरकार में गैंगस्टरों का था राजः जाखड़