बच्चों का कौशल बढ़ाएंगे ये मजेदार काम

गर्मियां आ गई हैं तो बच्चों की छुट्टियां भी नजदीक हैं। एेसे में माता-पिता के लिए जरूरी हो जाता है कि वे इन छुट्टियों का प्रयोग बच्चों में कुछ खास कौशल विकसित करने हेतु करें। पेश है कुछ एेसे ही कौशलों की जानकारी


1. कर्टून प्रेम
बजाय इसके कि गर्मियों में की छुट्टियों में बच्चे लगातार कार्टून ही देखते रहें, आप उन्हें किसी एेसी वर्कशाप का हिस्सा बनाएं जिसमें उन्हें एनीमेशन के बुनियादी सिद्धांतों से अवगत करवाया जाए। इस तरह की वर्कशाप में उन्हें एनीमेशन की दो तकनीकें सिखाई जाती हैं- क्ले एनीमेशन तथा पिक्सीलेशन। इन्हें सीखकर बच्चे खुद कार्टून बना सकते हैं।


2. विज्ञान में रुचि
आप बच्चों को खुद प्रयोग करने की अनुमति देकर उनकी विज्ञान में रुचि जगा सकते हैं। उन्हें बीकर में तरल पदार्थों को मापने जैसी गतिविधियों के माध्याम से आंखों और हाथों में तालमेल पैदा करने दें। उन्हें अपने आस-पास फैले विज्ञान से अवगत करवाएं। इस तरह से वे कुछ  आम घरेलू चीजों कप, गुब्बारों तथा सींकों से साइंस माडल्स बनाने हेतु प्रोत्साहिल होंगे।

 

3. ललित कलाएँ
आप उन्हें एक्टिंग, थिएटर, डांस, फोटोग्राफी तथा क्रिएटिव राइटिंग जैसी ललित कलाओं से अवगत करवाएं। उन्हें कहानी कहने की कला, किरदार गढ़ने या क्लाऊनिंग का प्रशिक्षण खुद दें या किसी वर्कशाप से जोड़ें।


4. शतरंज 
वयस्कों द्वारा खेले जाने वाले इस खेल से बच्चों को जोंड़े, जिससे उनकी दिमागी क्षमता में वृद्धि हो। इसके अतिरिक्त उन्हें पजल्स, सुडोक इत्यादि सुलझाने को भी प्रेरित करें ताकि उनका तार्किक सामर्थ्य, समस्याएँ सुलझाने का कौशल तथा दूसरों से संचार करने की क्षमता का विकास हो सके।

 

5. योग
योग सिर्फ फिटनैस रूटीन ही नहीं बल्कि एक जीवनशैली है। इसीलिए कहा जाता है कि छोटी उम्र से ही बच्चों को योग सिखाएं क्योंकि इस समय उनके शरीर में लचक शिखर पर होता है। योग में न सिर्फ योग के बुनियादी सिद्धांत सीखेंगे बल्कि इससे उनकी अंदरूनी ताकत तथा रचनात्मकता का भी विकास होगा।


 

× RELATED बढ़ते बच्चे को खिलाएं ये हैल्दी फूड्स तेजी बढ़ेगी हाइट व दिमाग