अब बादलों का अपने ही हलके में विरोध, घरों के बाहर लगे गद्दार-ए-कौम के पोस्टर

मलोट(जुनेजा):वोटों का समय जैसे नजदीक आ रहा है वैसे ही सभी सियासी पार्टियों व उम्मीदवारों द्वारा लोगों को भ्रमाने के लिए नए-नए शगूफे छोडऩे शुरू कर दिए हैं, परंतु उधर उम्मीदवारों का विरोध कर रही जनता ने भी नए-नए तरीकों से अपना रोष जाहिर करना शुरू कर दिया है। 

मलोट के सराभा नगर में एक व्यक्ति द्वारा अपने घरों के बाहर लगाए पोस्टरों में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को गदार-ए-कौम का खिताब देकर नीचे अकाली मुखी रहे परिवार के कार्यकाल में सिख विरोधी कार्यों का बख्यान किया हुआ है। जिसमें बादल परिवार को दुष्कर्मी साध को माफी, गुरू गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं, गुरू गोबिंद सिंह जी का स्वांग रचने वाले पाखंडी के साथ दोस्ती व अकाल तख्त की मर्यादा पर हमला करने के लिए आरोपी बताया है। यह पोस्टर लगाने वाले रनधीर सिंह व बलराज सिंह ढिल्लों का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल द्वारा आरएसएस की शह पर सिख धर्म का निघर की और धकेलने का कार्य किया जा रहा है इसलिए हर पंजाब व सिख वोटर इन्हें सबक दें।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!