तबीयत ठीक न होने पर अस्पताल पहुंची गर्भवती महिला ने तोड़ा दम

शाहतलाई:पिछड़ा क्षेत्र कोटधार की ग्राम पंचायत सलवाड़ के गांव भल्यार की एक गर्भवती महिला की अचानक मौत हो गई। जानकारी के अनुसार सलवाड़ पंचायत के भल्यार गांव की मोनिका (21) पत्नी सरवण कुमार 8 माह की गर्भवती थी। सलवाड़ पंचायत के मरोतन के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में गर्भवती महिलाओं के लिए उपयुक्त सुविधाएं उपलब्ध न होने के कारण मोनिका अपनी ननद सोमा देवी के पास बैहरन (कोटलू) में विगत सप्ताह यह कह कर चली गई थी कि वह अपना चैकअप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र झंडूता में करवा लेगी। हालांकि 2 दिन पहले मोनिका ने झंडूता अस्पताल में अपना चैकअप करवाया था, जहां उसे चिकित्सकों ने आराम करने की सलाह दी थी मगर विधाता को कुछ और ही मंजूर था।

निजी कंपनी में कार्यरत है मृतका का पति

ग्राम पंचायत सलवाड़ के उपप्रधान संजय कुमार ने बताया कि मोनिका वीरवार सुबह बिस्तर से उठ कर अपनी ननद से कहने लगी कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है, उसे चक्कर आ रहा है, जिस पर ननद उसे तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र झंडूता ले गई, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतका का पति बद्दी में निजी कंपनी में कार्यरत है। पंचायत प्रधान राम लाल, उपप्रधान संजय कुमार, जिला परिषद सदस्य वीना चंदेल व पवन गौतम सहित कई लोगों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व स्थानीय विधायक जीत राम कटवाल से मांग की है कि मृतका गरीब परिवार से संबंध रखती थी, इसलिए उसके परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!