विश्व टीम शतरंज चैंपियनशिप - अंतिम समय में पदक से चूका भारत , चौंथे स्थान पर रहा

रूस नें भारत को हराकर जीता स्वर्ण , इंग्लैंड नें रजत तो चीन नें कांस्य पर जमाया कब्जा 

अस्ताना , कजखस्तान ( निकलेश जैन ) विश्व टीम शतरंज चैंपियनशिप में अंतिम और फ़ाइनल मुक़ाबले में एक समय जीत के नजदीक पहुँच गयी भारतीय पुरुष टीम दुर्भाग्यशाली तरीके से अंतिम राउंड में रूस से 2.5-1.5 से पराजित होकर पदक तालिका से बाहर हो गयी और चौंथे स्थान पर रही । अंतिम राउंड के पहले भारत 11 मैच अंक बेहतर टाईब्रेक के आधार पर दूसरे स्थान पर था रूस 14 अंको के साथ पहले ही विजेता बन चुका था जबकि इंग्लैंड 11 अंको के साथ तीसरे और चीन 10 अंको के साथ चौंथे स्थान पर था । पर अंतिम राउंड में भारत के रूस से पराजय का फायदा इंग्लैंड और चीन को मिला गया क्यूंकी चीन नें अंतिम राउंड में स्वीडन को 3.5-0.5   से तो चीन नें मेजबान कजखस्तान को 2.5-1.5 से पराजित करते हुए क्रमशः 13 और 12 अंक बनाते हुए भारत को पीछे छोड़ दिया और इस तरह भारत जिसे पदक जीतने के लिए सिर्फ ड्रॉ की जरूरत थी पदक तालिका से बाहर हो गया । भारत नें कुल खेले 9 मैच में 3 जीत 5 ड्रॉ और 1 हार दर्ज की । 

 

कुछ इस तरह बदला मैच 

 

अंतिम राउंड में भारत के लिए पहले बोर्ड से अधिबन भास्करन नें सबसे पहला आधा अंक दिलाया और उन्होने रूस के शीर्ष खिलाड़ी सेरगी कार्यकिन से मैच ड्रॉ निकाल लिया । इसके साथ ही 2683 रेटिंग के अधिबन नें इस प्रतियोगिता में अपने अपराजेय रहने के क्रम को बरकरार रखा और अधिकृत तौर पर 2700 अंक का आंकड़ा छूने वाले इतिहास में 5 वे भारतीय बन गए 

PunjabKesari

जब गांगुली और अरविंद जीत से चूके - अगर भारत को सबसे ज्यादा किसी बात का दुख होगा टॉप वह की भले ही रूस टीम दुनिया की सबसे बेहतरीन टीम है भले उनके खिलाड़ियों की रेटिंग हमारे खिलाड़ियों से ज्यादा है पर हम यह मुक़ाबला जीत सकते थे दूसरे बोर्ड पर खेल रहे भारत के लिए सबसे ज्यादा अंक बनाने वाले सूर्या शेखर गांगुली इयान नेपोमनियची के खिलाफ लगभग जीती हुई बाजी में समय के दबाव में गलतियाँ करते चले गए और एक मोहरा ज्यादा होते हुए भी उन्हे ड्रॉ खेलने पर मजबूर होना पड़ा। जबकि चौंथे बोर्ड पर खेल रहे अरविंद चितांबरम आन्द्रेकिन दिमित्री के खिलाफ  एक समय बेहद महत्वपूर्ण बढ़त लेकर जीत के नजदीक थे पर वह भी समय के दबाव में बेजा गलतियाँ करते हुए मैच में ड्रॉ से ज्यादा कुछ हासिल नहीं कर सके । और इस तरह मैच 1.5-1.5 की बराबरी पर आ गया । 

 

PunjabKesari

 ऐसे में अंतिम मुक़ाबले मतलब बोर्ड तीन पर सेथुरमन और रूस के दिग्गज अलेक्ज़ेंडर ग्रीसचुक के बीच मुक़ाबले पर सबकी नजरे थी पर यह मुक़ाबला एक प्यादा कम पर खेल रहे सेथुरमन के लिए मुश्किले बढ़ाता गया और वह लंबे चले इस मुक़ाबले में पराजित हुए और साथ ही भारत मैच रूस से 2.5-1.5 से हार गया । 

 

हालांकि अपने तीन प्रमुख खिलाड़ियों विश्वनाथन आनंद , पेंटाला हरिकृष्णा और विदित गुजराती के बिना खेल रही यह टीम वाकई अपने शानदार खेल के लिए बधाई की हकदार है । 

Rank table

Rk.SNoTeamGames  +   =   -  TB1  TB2  TB3 
19Russia97201623,50
25England95311321,00
34China95221221,00
41India93511122,00
58United States of America94321120,50
62Iran9324818,00
77Azerbaijan9243816,50
86Kazakhstan9126414,50
910Sweden9207410,50
103Egypt9117312,50
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!