See More

कोरोना संकट में दिल्ली कैंट स्थित RPF थाने में इंसानों सहित बेजुबानों के भोजन की व्यवस्था कर रहे हैं जवान

2020-05-23T20:51:50.507

नई दिल्ली/ डेस्क। जिनकी जुबान है वो अपने दर्द को भूख को और तकलीफों को बयां कर सकते हैं लेकिन जो बेजुबान हैं वो अपनी आप बीती किसे बताएं। ऐसे ही बेजुबानों के दर्द को और उनकी भूख को मिटाने का जिम्मा दिल्ली कैंट के आरपीएफ के जवानों ने उठाया है। यहां ना सिर्फ इंसानों के लिए खाना मुहैया करवाया जा रहा है बल्कि बेजुबाना जानवरों की भी सुविधाओं का पूरा ख्याल रखा जा रहा है।
 


दिल्ली कैंट रेलवे स्टेशन आरपीएफ पोस्ट के वरिष्ठ अधिकारी डी‐के‐ यादव ने बताया कि रोजाना करीब 500 लोगों के पेट भरने का काम किया जा रहा है। उनके लिए आरपीएफ मैस में खाना बनवाया जा रहा है। लाॅकडाउन के दौरान खाना ना मिलने से जानवरों ने परेशान होकर रेलवे स्टेशन आरपीएफ पोस्ट को ही अपना ठिकाना बना लिया। उनकी परेशानी देखकर हमने कुछ कुत्तों को खाना खिलाना शुरू कर दिया था, जिसके बाद धीरे-धीरे उनकी संख्या बढने लगी।

 

इसके बाद गाय, बंदर व पक्षी भी यहां भोजन की तलाश में आने लगे। अब इंसानों के साथ ही आरपीएफ के जवान इन बेजुबानों का भी पूरा ध्यान रखते हैं। चिडियों के लिए दाने व पानी के साथ ही बंदरों के लिए रोटी व फल भी लाया जाता है।

 

जवान घर से लाते हैं ज्यादा खाना
यादव ने बताया कि मैस में खाना बनाने की अपनी कैपिसिटी होती है। इसीलिए हमारे यहां जितने भी जवान हैं वो अपने घरों से अतिरिक्त खाना बनवाकर लाते हैं और अपने टिफिन से इनको खाना देते हैं ताकि ये बेजुबान जानवर भूखे ना रह सकें। यही नहीं इनकी मदद करने से सभी को बेहद खुशी भी मिल रही है।


Edited By

Murari Sharan

Related News