पुंछ की पहली आईएएस अधिकारी ने कहा-मैं अपने देश के लिए काम करना चाहती हूं

2020-10-28T17:45:33.24

पुंछ: जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले से भारतीय प्रशासनिक परीक्षा पास करने वाली पहली महिला ने देश सेवा को अपना लक्ष्य बताया है। सालवाह गांव की एमबीबीएस ग्रेज्यूएट रेहाना बशीर अब देश की सेवा करने के लिए जल्द ही नौकरशाह तबके में शामिल हो जाएंगी। उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में आईएएस परीक्षा को पास किया है। रेहाना पहली बार 2017 में परीक्षा दे चुकी हैं। उन्होंने कहा, तब आसान नहीं था। बहुत तनाव रहा। मेरे भाई ने मेरा साथ दिया। वो प्रशासनिक सेवा में है।उसने मेरा मार्गदर्शन किया।

 


रेहाना शेरे कश्मीर इंस्टीच्यूट आफ मेडिकल साइंस से एमबीबीस की चुकी हैं। उनके भाई आमिर बशीर्र आअआरएस में कार्यरत हैं। वह कहती हैं, मेरे परिवार और दोस्तों ने मुझे भूलने नहीं दिया कि मेरा लक्ष्य क्या है। जब 2016 में मैं इंटरनशिप कर रही थी तो मुझे लगा कि मैं लोगों को इससे बेहतर सेवा दे सकती हूं। जब मैं कालेज में थी तो मेरी दुनिया सिर्फ किताबों तक थी। मैं जमीनी हकीकत से परे थी। मैं डाक्टर बनना चाहतीथी पर फिरलगा कि मैं लोगों को इसे बेहतर दे सकती हूं। स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या तो है ही पर लोगों को कई परेशानियां है और प्रशासन का हिस्सा बनकर उनको दूर किया जा सकता है। 
आईएएस टाॅपर शाह फैसल द्वारा राजनीति मेंआ जाने पर रेहाना कहती हैं कि वो सरकार की नीतियांे को हर कोने में लागू करना चाहती हैं न कि सिर्फ कश्मीर में। मैं भारत के किसी भी राज्य में काम करने को तैयार हूं। मैं मेरी डयूटी जानती हूं। मैं कश्मीर तक नहीं हूं। मेरे लिए मेरा देश भी अहम है।


Content Writer

Monika Jamwal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static