सुपरटेक ट्विन टावर को गिराने लिए विशेषज्ञों की टीम गठित, कितना लगेगा विस्फोटक...बेसमेंट से टॉप मंजिल का किया दौरा

10/14/2021 4:09:53 PM

नेशनल डेस्क : नोएडा के सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट ने ट्विन टावर को गिराने की कार्य योजना तैयार करने के लिए एक विशेषज्ञों की टीम गठित की है। इस टीम में शनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉर्पोरेशन (एनबीसीसी) के पूर्व सीएमडी अनूप कुमार मित्तल, इंडियन डिमोलिशन एसोसिएशन (आईडीए) और सीबीआरआई के अधिकारी शामिल किए गए है। इन अधिकारियों ने मौके पर जाकर बेसमेंट से लेकर ऊपरी मंजिल तक का निरीक्षण किया है। इसके बाद उन्होंने प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ आगे की योजना को लेकर विचार-विमर्श किया। 

बता दें कि, मंगलवार को एनबीसीसी के पूर्व सीएमडी, आईडीए और सीबीआरआई के अधिकारियों की टीम ट्विन टावर पहुंचकर दोनों टावरों को निरीक्षण किया। ्आसपास के भवनों और अन्य इमारतों को देखकर उनकी दूरी की जांच की गई। अधिकारियों के अनुसार कमेटी ने यह जांच की है कि ट्विन टावर को गिराने के लिए कौन सी इमारत पर किस जगह कितना विस्फोटक लगेगा। इस टीम के कार्ययोजना देने के बाद प्राधिकरण अधिकारी एजेंसी का चयन करेंगे। इसके बाद आवेदन आमंत्रित किया जाएगा। ध्वस्तीकरण की कार्रवाई पर आने वाला पूरा खर्चा सुपरटेक बिल्डर को वहन करना है।

इन बातों को लेकर किया गया विचार-विमर्श 

  • ट्विन टावर को नीचे गिराने में कितना विस्फोट लगेगा।
  • कौन सी इमारत है जो 50 मीटर के दायरे में है, दोनों टावर की कौन सी मंजिल और किस स्थान पर विस्फोटक लगेगा।
  • गिराते वक्त किसी अन्य भवन को कोई नुकसान न हो, ट्विन टावर को किस साइड से गिराना सही रहेगा।
  • आसपास की ऐसी कौन सी इमारतें हैं, जहां रहने वालों को खतरा हो सकता है।
  • गिरना के 24 घंटे पहले किन -किन भवनों को खाली कराया जाएगा।
  • कितने हिस्सों को पहले से सील किया जाएगा। 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Recommended News