तमिलनाडु:600 करोड़ रुपए लेकर उड़ गए ‘हेलिकॉप्टर ब्रदर्स’, कुंभकोणम शहर में जगह-जगह लगे पोस्टर

2021-07-23T15:41:10

नेशनल डेस्क: भाजपा व्यापारी विंग के नेता मरियूर रामदास गणेश और उनके भाई मरियूर रामदास स्वामीनाथन पर 600 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया है। तमिलनाडु के कुंभकोणम में दोनों 'हेलिकॉप्टर्स ब्रदर्स' के पोस्टर जगह-जगह चस्पा है। लोगों ने इन दोनों भाइयों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि साल 2019 में दिसंबर में तमिलनाडु के कुंभकोणम शहर में डेयरी मालिक मरियूर रामदास गणेश ने अपने एक साल के बेटे का ऐसा शानदार बर्थडे मनाया था कि इसकी काफी दिनों तक चर्चा होती रही थी।

 

रामदास गणेश ने बेटे बर्थडे पर हेलीकॉप्टर से गुलाब की पंखुड़ियां बरसाईं थी। लेकिन अब पुलिस मरियूर रामदास गणेश और उनके भाई मरियूर रामदास स्वामीनाथन की तलाश कर रही है। लोगों से धोखाधड़ी करने के आरोप में दोनों भाईयों के खिलाफ तंजावुर जिला अपराध शाखा में बुधवार को प्राथमिकी दर्ज की गई है। उनकी कंपनी के मैनेजर माने जाने वाले श्रीकांत (56) को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

 

'हेलिकॉप्टर्स ब्रदर्स' पर यह आरोप
दोनों भाइयों पर आरोप है कि उन्होंने लोगों को निवेश पर उच्च रिटर्न का लालच देकर ठगा है। पुलिस के मुताबिक दोनों के साथ दो अन्य के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 406, 420 और 120 (बी) के तहत धोखाधड़ी, विश्वासघात और आपराधिक साजिश का मामला दर्ज किया गया है। 'हेलिकॉप्टर्स ब्रदर्स' की कंपनी में निवेश करने वाले जफरुल्लाह और उसकी पत्नी फैराज भानु ने तंजावुर के एसपी देशमुख शेखर संजय के पास जाकर दोनों भाइयों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। दंपति ने अपनी शिकायत में कहा कि उन्होंने भाइयों के स्वामित्व वाली कंपनी में 15 करोड़ रुपए जमा किए थे, लेकिन कभी भी राशि या ब्याज वापस नहीं मिला।

 

दंपति ने कहा कि जब अब दोनों भाइयों से पैसों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने उनको धमकी दी जिसके बाद पुलिस में शिकायत की है। कुंबकोणम के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि दोनों भाइयों के कई देशों में व्यापारिक संबंध हैं लेकिन हमारे पास उनकी पूरी जानकारी नहीं है, हम लगाने की कोशिश कर रहे हैं। अधिकारी ने कहा कि शिकायत के आधार पर जिला अपराध शाखा ने जांच शुरू कर दी है। यह दंपति अकेला शिकार या पीड़ित नहीं है, दोनों भाइयों ने किसी से 10 लाख तो किसी से 4 लाख ऐसे न जाने कितनी ठगी की है।

 

वहीं भाजपा ने गणेश को पद से हटा दिया है। बताया जा रहा है कि तिरुवरूर के रहने वाले मरियूर रामदास गणेश और मरियूर रामदास स्वामीनाथन पांच-छह साल पहले कुंभकोणम में आकर बसे थे और यहां दोनों ने विदेशी नस्ल की गायों से डेयरी का कारोबार शुरू किया। धीरे-धीरे उनका कारोबार फलने-फूलने लगा तो उन्होंने एक कंपनी बनाई जिसमें लोगों को निवेश करने को कहा और उस पर ज्यादा राशि का लालच दिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News