हाई डेनसिटी वाले सेबों को ओलों से बचाने के लिए SUKAST ने निकाला नया तरीका

2020-10-28T17:58:03.697

श्रीनगर: कश्मीर में ओलावृष्टि से सेबों की फसल अक्सर तबाह हो जाती है। इससे बचने के लिए अब शेरे कश्मीर यूनिवर्सिटी आॅफ एग्रिकल्चरल एंड साइंस ने नया तरीका निकाला है। सुकास्ट ने हेल नेट सिस्टम का शुरू किया है। वैज्ञानिक और विशेषज्ञ हेल नेट सिस्टम में कुछ और नये तरीके भी विकसित करने में लगे हैं ताकि सेब की फस्ल को ओलावृष्टि से बचाया जा सके।


सुकास्टके फ्रूट साइंस के हैड डिविजन के डा खालिद मुश्ताक के अनुसार, हेल नेट सिस्टम में प्रत्येक पौधे के लिए उपाय होता है। इसमें स्पोर्ट स्टरक्चर और ड्रिप होती है और यह हर पौधे के लिए आवश्यक है। उन्होंने बताया कि इससे फसल को नष्ट से होने बचाने में मदद मिलेगी। इससे पक्षियों से भी फसल को बचाया जा सकता है। सुकास्ट ने काले और सफेद रंग के नेट लाए हैं। इसे प्रयोग के तौर  पर लिया जा रहा है। अगर यह सफल रहता है तो इसका आगे भी प्रयोग होता रहेगा। सुहेल नामक छात्र ने कहा कि कई बार मौसम अनुकूल नहीं होता है और फसल खराब हो जाती है पर इससे पौधों को और फसल को बचाया जा सकता है। उने कहा कि इन्हें सेटअप करने के लिए प्रशिक्षण की भी जरूरत है। उसने बताया कि काले रंग के नेट को सूरज के अधिक तापमान से बचाने के लिए प्रयोग किया जाएगा।
 


Content Writer

Monika Jamwal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static