जरूरत है अपने अधिकारों को छीनने की पर शांतिपूर्ण तरीके से: फारूक अब्दुल्ला

punjabkesari.in Friday, Dec 10, 2021 - 11:35 AM (IST)

जम्मू: नेशनल कान्फ्रेंस के प्रधान डा फारूक अब्दुल्ला ने प्रोक्ष रूप से भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि जब भी चुनाव पास में आते हैं तो उन्हें धर्म खतरे में लगता है। उन्होंने कहा कि पार्टी धार्मिक कार्ड का खेल खेलती है पर उन्हें पता नहीं है कि भगवान राम या फिर अल्लाह कभी खतरे में नहीं होते हैं बल्कि राजनीतिक पार्टियां ही हमेशा खतरे में रहती हैं।


अब्दुल्ला ने जम्मू कि शेर ए कश्मीर भवन में पार्टी के सम्मेलन को संबोधित किया। इस मौके पर सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी तथा हैलीकाप्टर क्रैश में शहीद हुये अन्य अधिकारियों के लिए शांति प्रार्थना की और दो मिन्ट का मौन भी रखा। 


जम्मू कश्मीर के लोगों की तरफ से बात करते हुये उन्होंने कहा कि लोग चाहते हैं कि जो अधिकार उनसे छीने गये हैं उन्हें शांतिपूर्ण तरीके से वापस बहाल कर दिया जाए। अब्दुल्ला ने कहा कि चुनाव पास में हैं और यही सही मौका है। उन्होंने कहा कि धर्म लोगों को बांटता नहीं है बल्कि मानवता सिखाता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News