सिदड़ा कांड मामला: सर मेरा भाई फोन नहीं उठा रहा है, प्लीज कुछ करो

punjabkesari.in Wednesday, Aug 17, 2022 - 02:37 PM (IST)

जम्मू: जम्मू के सिदड़ा में बुधवार को छह लाशें मिलने से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है। आखिरकार यह हुआ क्या। पुलिस मामले की जांच में जुटी है पर इस संदर्भ में पुलिस को जानकारी कहां से मिली। किसके कहने पर घरों की तलाशी लेने पुलिस मौके पर पहुंची। इन सारे सवालों के जवाब में है एक फोन काॅल।


जेके पुलिस को 16अंगस्त की रात करीब 10 बजे श्रीनगर के बराजूला से शहजादा पुत्री हबीब उल्लाह का फोन आया। उसने घबराते हुये कहा कि उसका भाई नूर फोन नहीं उठा रहा है और उसे लगता है कि शायद नूर ने आत्महत्या कर ली है।


इस फोन के बाद पीपी सिदड़ा और पीएस नगरोटा की टीम ने बताए हुये पते पर छापा मारा। घर का दरवाजा अन्दर से बंद था और घर के आस-पास कुछ अजीब सी बदबू भी आ रही थी। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मौजूदगी में घर के दरवाजे तुड़वाये तो अन्दर से शव बरामद हुये।


मौके पर पुलिस द्वारा एफएसएल की टीम भी बुलवाई गई। शुरूआती मामला जहरखुरानी की लगता है। घर में मिले चार शवों की स्थानीय लोगों ने पहचान भी की। उन्होंने बताया कि शव नूर, पुत्र हबीब उल्लाह निवासी श्रीनगर, सकीना बेगम, विधवा गुलाम हसन, सज्जाद अहमद , पुत्र फारूक अहमद मारगे और नसीमा अख्तर, पुत्री गुलाम हसन हैं।


वहीं साथ वाले घर में भी पुलिस को दो शव मिले। उनकी पहचान भी गुलाम हसन के बच्चों के तौर पर हुई है।
   
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News