बीजेपी वर्करों पर टीएमसी समर्थकों के हमले से भड़के शुभेंदु- ‘ममता दीदी आपको शर्म नहीं आती है

2021-01-19T20:47:02.883

नेशनल डेस्कः पश्चिम बंगाल में सियासी जंग में हिंसा की घटना में कोई कमी नहीं आई है। एक बार फिर बीजेपी कार्यकर्ताओं पर टीएमस के समर्थकों ने हमला बोला। हालांकि इस बार बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने डंडे लेकर टीएमसी समर्थकों पर दौड़ पड़े। मेदिनीपुर के खेजुरी में सुभेन्दु अधिकारी और बाबुल सुप्रियो की सभा में शामिल होने जा रहे बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर हमला हो गया। बीच रास्ते में ही टीएमसी वर्करों ने बम और पत्थर से बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला बोल दिया। इस हमले में बीजेपी की रैली में शामिल होने वाले कार्यकर्ता जख्मी हो गए। इससे भीड़ में खलबली मच गई।

अपने सहयोगियों को जख्मी होता देख बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किसी तरह उन्हें अस्पताल पहुंचाया। हालांकि हमले से भड़के बीजेपी समर्थक भी डंडे लेकर टीएमसी वर्करों पर टूट पड़े। मामला बढ़ता देख पुलिस ने बीच बचाव की नाकाम कोशिश की। सड़क और खेत जैसे जंग के मैदान में तब्दील हो गया। इस हमले को देखकर यही लग रहा है कि द ग्रेट बैटल ऑफ बंगाल को जीतने के लिए सियासी दलों ने साम दाम दंड भेद का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वहीं मेदिनीपुर के खजूरी में आयोजित बीजेपी की रैली में भी शुभेंदु अधिकारी ने इस हमले का जिक्र किया। शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि अभी उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है क्योंकि टीएमसी के समर्थकों ने बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर हमला किया है। शुभेंदु अधिकारी ने हमला करने वाले टीएमसी नेताओं पर कार्रवाई करने के लिए पुलिस-प्रशासन को रविवार तक का वक्त दिया हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमला करने वाले टीएमसी वर्करों पर कार्रवाई नहीं हुई तो सोमवार को तामलुक के एसपी ऑफिस के सामने वे धरना देंगे। उन्होंने टीएमसी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को इन घटनाओं पर शर्म तक नहीं आती है।

टीएमसी और बीजेपी के नेताओं को हिंसक हमलों पर रोक लगाने के लिए बैठकर बातचीत करना चाहिए क्योंकि लोकतंत्र में फैसले बैलेट से होते हैं ना कि बुलेट से। वैसे भी इन घटनाओं से पश्चिम बंगाल की छवि बिगड़ रही है। इसलिए हिंसक संघर्ष को रोकने से ही पश्चिम बंगाल की छवि को बदला जा सकता है।

 


Content Writer

Yaspal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News