शाह ने आरआरयू के अरुणाचल प्रदेश परिसर का किया उद्घाटन, कहा इसकी स्थापना से होंगे कई लाभ

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 10:02 PM (IST)

ईटानगरः गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को अरुणाचल प्रदेश के नमसाई में एक जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री पेमा खांडू की उपस्थिति में राज्य के पासीघाट में गुजरात के राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय (आरआरयू) के ट्रांजिट कैंपस का उद्घाटन किया। 

स्थानीय युवाओं के लिए कई संभावनाएं खुलेंगी
इस अवसर पर शाह ने अपने संबोधन में कहा , ‘‘आरआरयू ( जिसने गुजरात में अपने मुख्यालय के बाहर अपना पहला परिसर खोला) पुलिस, सैन्य और अर्धसैनिक बलों को देश भर में समाहित करने के लिए पूर्वोत्तर क्षेत्र से एक अच्छी तरह से प्रशिक्षित और पेशेवर जनशक्ति के साथ एक मजबूत नींव तैयार करेगा। '' उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में आरआरयू परिसर के खुलने से स्थानीय युवाओं के लिए कई संभावनाएं खुलेंगी। 

उन्होंने गुजरात के बाहर पहले आरआरयू परिसर की मेजबानी के लिए मुख्यमंत्री खांडू को बधाई दी और आश्वस्त किया कि अरुणाचल प्रदेश के लोगों के लिए आरआरयू की स्थापना से कई लाभ होंगे। 

आपदा उपयुक्त शारीरिक और मानसिक फिटनेस पर दिया जाएगा जोर 
आरआरयू की ओर से आज यहां जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘आरआरयू का अरुणाचल परिसर एक मजबूत पाठ्यक्रम के विकास में योगदान देगा और इस क्षेत्र के युवाओं में कौशल, देशभक्ति, अनुशासन, नैतिकता और नैतिक मूल्यों के उच्च मानकों को विकसित करेगा। इसमें प्रशिक्षण समर्पित, सक्षम सेवारत, सेवानिवृत्त आंतरिक सुरक्षा और पुलिस कर्मियों द्वारा प्रदान किया जाएगा। आग से बचाव सुरक्षा, आपदा उपयुक्त शारीरिक और मानसिक फिटनेस पर जोर दिया जाएगा। प्रशिक्षण अरुणाचल प्रदेश और व्यापक क्षेत्र में पुलिस और सुरक्षा बलों में उनके समावेश की स्पष्ट द्दष्टि के साथ प्रदान दिया जाएगा। '' 

आरआरयू का मुख्यालय गांधीनगर में
इस मौके पर केंद्रीय कानून एवं विधि मंत्री किरेन रिजिजू, उपमुख्यमंत्री चोवना मेन और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे। आरआरयू का मुख्यालय गुजरात के गांधीनगर में है और इसने अरुणाचल प्रदेश में अपना पहला परिसर खोला है। यह परिसर पूर्वी सियांग जिले में जिला सत्र न्यायालय गुमिन नगर से दो मील दूर पासीघाट के पास स्थित है। इस मौके पर आरआरयू के कुलपति प्रो. बिमल एन पटेल और अरुणाचल प्रदेश सरकार के प्रभारी मुख्य सचिव कलिंग तायेंग ने अरुणाचल प्रदेश में नए आरआरयू परिसर के उद्घाटन के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) का आदान-प्रदान किया। 

उल्लेखनीय है कि आरआरयू भारत के राष्ट्रीय महत्व का एक संस्थान है, जिसकी स्थापना भारतीय संसद, 2020 के अधिनियम संख्या 31 द्वारा की गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरआरयू को ‘‘राष्ट्र का गहना, जो हमें सशक्त भारत की द्दष्टि को मजबूत करने में मदद कर रहा है'' के रूप वर्णित किया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News