See More

अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने छोड़ी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस, कहा- पार्टी में ठीक नहीं हालात

2020-06-29T14:36:06.56

नेशनल डेस्क: जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने हुरियत कॉन्फ्रेंस से खुद को अलग कर दिया है।  उन्होंने एक ओडियो मैसेज जारी कर पार्टी से इस्तीफा देने का ऐलान किया। शाह ने हुर्रियत के मौजूदा हालात को देखते हुए यह फैसला लिया है। 

PunjabKesari

गिलानी ने ऑडियो मैसेज में कहा कि 'हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के ताजा हालातों को देखते हुए मैं इस फोरम से अपने इस्तीफे की घोषणा करता हूं। फैसले के बारे में हुर्रियत के सारे लोगों को चिट्ठी लिखकर कर सूचना दे दी गई है। दरअसल गिलानी की सेहत पिछले कुछ दिनों से ठीक नहीं चल रही है, ये भी उनके इस्तीफा का मुख्य कारण माना जा रहा हैं । 

PunjabKesari

बता दें कि 90 साल के गिलानी पिछले साल एक वीडियो को लेकर भी विवादों में घिर गए थे। इसमें वह 'हम पाकिस्तानी हैं और पाकिस्तान हमारा है' कहते सुनाई दिए थे। साल 2014 में भी उन्होंने कहा था कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा नहीं, बल्कि अंतरराष्ट्रीय मुद्दा है। गिलानी और कुछ दूसरे हुरियत नेताओं के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने लश्कर-ए-तैयबा से कथित तौर पर फंड लेने पर मामले में जांच भी गई थी। 
PunjabKesari


vasudha

Related News