See More

सऊदी में नहीं हुआ चांद का दीदार, जानें कब मनाई जाएगी खाड़ी देशों और भारत में ईद

2020-05-23T18:11:56.51

 

दुबईः मुस्लिमों का सबसे बड़ा त्योहार ईद-उल-फितर इस बार  कोरोना संकट को देखते हुए  सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ही मनाना होगा। यह त्यौहार 24 या 25 मई को मनाया जाएगा। दरअसल ईद-उल-फितर का यह त्योहार रमजान के 29 या 30 रोजे रखने के बाद चांद देखकर मनाया जाता है। सऊदी अरब में इस साल ईद उल फितर का त्योहार रमज़ान के पूरे 30 रोज़े रखने के बाद मनाया जाएगा।

 

दरअसल, सऊदी अरब, यूएई और कई खाड़ी देशों में 22 मई को ईद का चांद दिखाई नहीं दिया इसलिए 23 मई को ईद नहीं मनाई गई। सऊदी अरब समेत तमाम खाड़ी देशों में 24 मई यानी रविवार को ईद मनाई जाएगी। जबकि भारत में 24 मई को चांद दिखाई देने की उम्मीद है, जिसके बाद 25 मई को ईद का त्योहार मनाया जाएगा। लद्दाख में 22 मई को ईद का चांद दिखाई दिया, जिसके बाद आज यानी 23 मई को ईद मनाई जा रही है।

 

बता दें कि ईद-उल-फितर के साथ इस्लामिक कलैंडर शव्वाल के महीने की शुरुआत होती है। ईद का दिन एकमात्र ऐसा दिन होता है जिस दिन रोज़ा यानि उपवास नहीं रखा जाता। ईद के चांद का दीदार होने के बाद यानि शव्वाल का महीना शरू होने के साथ ईद मनाई जाती है, इसलिए दुनियाभर में इसकी तारीख अलग-अलग होती है।


Tanuja

Related News