पिता को याद कर इंटरव्यू के बीच में ही फूट-फूट कर रोने लगे चिराग पासवान, एंकर को बंद करना पड़ा शो

2020-10-16T15:18:49.517

नेशनल डेस्क: बिहार के कद्दावर नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के निधन से उनके बेटे चिराग पासवान को गहरा सदमा लगा है। हाल ही में सोशल मीडिया पर इनदिनों एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें इंटरव्यू के बीच ही पिता को याद कर फूट- फूट कर रोने चिराग पासवान रोने लगे। जिसके बाद एंकर को शो बंद ही करना पड़ा। 

PunjabKesari

दरअसल पिता के निधन के बाद चिराग पासवान एक निजी चैनल को इंटरव्यू दे रहे थे। चिराग पासवान ने इंटरव्यू में बताया कि पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद उन्होंने और उनकी मां ने एक खास डील की है कि जब तक बिहार चुनावों के नतीजे ना आ जाते तब तक हमें आंसू नहीं बहाना है। उसके बाद हम दोनों पापा को याद करके खूब रोएंगे। तब तक हमें एक दूसरे की हिम्मत बढ़ानी है। चिराग ने बताया कि बिहार चुनावों में हम कमजोर नहीं पडऩा चाहते इसलिए मैंने और मेरी मां ने एक दूसरो को हिम्मत देने के लिए ये डील की है। ये कहते हुए चिराग फूट-फूट कर रोने लगे। चिराग को रोता देख उनके परिवार का कोई शख्स बीच में आया और उन्होंने चुप कराया। चिराग के भावुक होने के बाद इंटरव्यू को बीच में छोड देना पड़ा। 

PunjabKesari

बता दें कि चिराग को बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान ऐसे समय में पितृशोक का सामना करना पड़ा है जब वे अपने राजनीतिक करियर के अहम पड़ाव पर खड़े हैं। दिल्ली के एक अस्पताल में पिता रामविलास पासवान के अंतिम सांस लेने के बाद से 37 वर्षीय सांसद काफी टूट चुके हैं। चिराग कर्तव्यनिष्ठ बेटे की तरह हमेशा अपने पिता की सेवा में लगे दिखाई दिए। हाजीपुर के पास दीघा में जनार्दन घाट पर चिराग़ पासवान ने अपने पिता के अंतिम संस्कार से पहले चिता की परिक्रमा की और फिर मुखाग्नि दी। इसके बाद वअचानक अचेत हो गए लेकिन उनके एक रिश्तेदार ने उन्हें संभाल लिया जिससे वह गिरने से बच गए। 

PunjabKesari

लोकसभा के दूसरी बाद सदस्य निर्वाचित 37 वर्षीय चिराग पासवान अपने पिता रामविलास के बीमार पड़ने, हृदय का आपरेशन होने से लेकर लगातार अस्पताल में उनकी देखरेख में लगे रहे। कोविड-19 के दौरान लॉकडालन लागू होने पर सोशल मीडिया में एक तस्वीर आई थी जिसमें वे अपने पिता के बाल बना रहे थे। चिराग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ झंडा बुलंद करते हुए अकेले ही विधानसभा चुनाव में ताल ठोकने का आश्चर्यजनक निर्णय लिया था। राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पासवान के आवास पर दिवंगत केंद्रीय मंत्री को श्रद्धांजलि देने आए थे तब भी चिराग अपने आंसुओं को नहीं रोक पाये थे।


Edited By

Anil dev

Related News