भारतीय प्रवासियों ने हर जगह भारतीय पहचान को कायम रखा है: राजनाथ सिंह

punjabkesari.in Friday, Apr 15, 2022 - 04:48 PM (IST)

वाशिंगटन: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि दुनिया में जहां कहीं भी भारतीय मूल के लोग हैं, उन्होंने भारत की पहचान को जीवित रखा है। इसके साथ ही सिंह ने अपने मूल देश से हजारों मील दूर अपनी संस्कृति की 'पूर्ण पहचान' को बनाए रखने के लिए भारतीय-अमेरिकी लोगों की सराहना की। रक्षा मंत्री भारत व अमेरिका के बीच वाशिंगटन डीसी में आयोजित ‘2 प्लस 2' मंत्रिस्तरीय वार्ता में भाग लेने के लिए यहां आए थे। इसके बाद, उन्होंने हवाई और फिर सैन फ्रांसिस्को की यात्रा की। अमेरिका की अपनी पांच दिवसीय यात्रा को सार्थक बताते हुए सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने अमेरिकी समकक्ष लॉयड ऑस्टिन के साथ शानदार मुलाकात की।
 

 सिंह ने सोमवार को ऑस्टिन के साथ द्विपक्षीय वार्ता की और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग एवं हिंद-प्रशांत तथा व्यापक हिंद महासागर क्षेत्र सहित क्षेत्रीय सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। सिंह ने वीरवार को सैन फ्रांसिस्को में भारतीय वाणिज्य दूतावास द्वारा उनके सम्मान में आयोजित एक सार्वजनिक स्वागत समारोह में भारतीय-अमेरिकी लोगों के एक समूह से कहा कि मैं आपको इस संपूर्ण भारतीय पहचान को कायम रखने के लिए बधाई देता हूं। 
 

उन्होंने कहा कि यह कोई छोटी बात नहीं है। किसी स्थान पर लंबे समय तक रहने क बाद लोग अपनी (सांस्कृतिक पहचान) खो देते हैं। भारत से बाहर रहने वाले भारतीय हमेशा खुद को भारतीय कहने में गर्व महसूस करते हैं। सिंह ने कहा कि वह अपने राजनीतिक जीवन में चौथी बार अमेरिका की यात्रा कर रहे हैं और सैन फ्रांसिस्को की यह उनकी पहली यात्रा है। उन्होंने कहा कि अमेरिका में भारतीय समुदाय ने यहां खुद को स्थापित किया है और यह समुदाय के प्रयासों का परिणाम है। 
 

उन्होंने कहा कि अगर मैं आधिकारिक दौरे पर नहीं, बल्कि एक राजनीतिक दल के नेता के तौर पर यहां आता, तो मैं उन सभी जगहों पर भारतीय समुदाय से मिलता, जहां-जहां मैं गया। सिंह ने कहा कि अमेरिका और भारत के संबंध आर्थिक, रणनीतिक और रक्षा के साथ-साथ बहुआयामी हैं। उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया जानती है कि भारत और अमेरिका स्वाभाविक सहयोगी हैं। 
 

उन्होंने जोर दिया कि दोनों देशों के संबंधों में स्थिरता और निरंतरता है और इसके साथ ही इस स्थिरता और निरंतरता को बनाए रखने में दोनों देशों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। सिंह ने कहा कि इस जमीनी वास्तविकता की अनदेखी नहीं की जा सकती है। उनका शुक्रवार को सैन फ्रांसिस्को से भारत रवाना होने का कार्यक्रम है। 
 

सिंह ने कहा कि भारतीय प्रवासी अमेरिका में नयी ऊंचाइयों की ओर बढ़ते रहे हैं और इस रिश्ते में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होंने तालियों के बीच कहा कि भारतीय मूल के लोग या प्रवासी यहां जो उपलब्धि हासिल करते हैं, उस पर भारत के लोग हमेशा गौरवान्वित होते हैं। इस क्रम में उन्होंने ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल, माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला और गूगल के सुंदर पिचाई का नाम लिया। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News