See More

देश में आए संकट पर राहुल गांधी की चर्चा, नोबेल विजेता ने अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के दिए सुझाव(V

2020-07-31T10:46:25.143

नेशनल डेस्क: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोविड-19 महामारी का ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर असर और इस संकट से उबरने के बाद उठाए जाने वाले जरूरी कदमों को लेकर बांग्लादेश के ग्रामीण बैंक के संस्थापक और नोबेल पुरस्कार विजेता मोहम्मद यूनुस के साथ चर्चा की। इस चर्चा का वीडियो आज विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर जारी किया गया। 

 

मुहम्मद युनूस ने राहुल गांधी से  कहा कि आज जरूरत है कि गांव की अर्थव्यवस्था को खड़ा किया जाए। लोगों को शहर नहीं बल्कि गांव में ही नौकरी दी जाए। कोरोना के बाद एक नई नीति पर काम जरूरी है। उन्होंने कहा कि हमने पश्चिम से काफी कुछ लिया, लेकिन गांव को ताकतवर बनाना भारत और बांग्लादेश का ही मॉडल है। महात्मा गांधी ने भी कहा था कि हमें अपनी ग्रामीण अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाना होगा। 

PunjabKesari

राहुल गांधी ने इस वीडियो का एक संक्षिप्त हिस्सा ट्विटर पर शेयर करते हुए इस चर्चा के बारे में जानकारी दी थी। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देश में ‘अनियोजित लॉकडाउन' के कारण भारतीय शहरों से करोड़ों मजदूर चले गए। गैर संगठित क्षेत्र की नींव पर खड़ी अर्थव्यवस्था ध्वस्त्त हो गई। ऐसे में यह चर्चा इसको लेकर है कि कोरोना महामारी के बाद के हालात को कैसे नया आकार दिया जा सकता है।
PunjabKesari

राहुल गांधी पिछले कुछ महीनों में कोविड-19 संकट के असर एवं इससे निपटने के तरीकों को लेकर अलग अलग क्षेत्रों की हस्तियों के साथ संवाद करते आ रहे हैं। इस क्रम में उन्होंने पूर्व अमेरिकी विदेश उप मंत्री निकोलस बर्न्स, उद्योगपति राजीव बजाज, जन स्वास्थ्य पेशेवर आशीष झा और स्वीडिश महामारी विशेषज्ञ जोहान गिसेक, प्रतिष्ठित अर्थशास्त्री रघुराम राजन और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अभिजीत बनर्जी से भी बातचीत की थी।

PunjabKesari


vasudha

Related News