Jagannath Rath Yatra 2022: पुरी के जगन्नाथ मंदिर में रथयात्रा की तैयारियां शुरू, ज्यादा कड़ी होगी सुरक्षा

punjabkesari.in Tuesday, May 24, 2022 - 02:49 PM (IST)

नेशनल डेस्क: ओडिशा के पुरी में भगवान जगन्नाथ, उनके बड़े भाई बलभद्र और बहन देवी सुभद्रा की आगामी 1 जुलाई से शुरू होने वाली नौ दिवसीय रथ यात्रा में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के तहत 200 पुलिस उपाधीक्षक (DSP) और 50 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ASP) सहित लगभग 65 प्लाटून पुलिस तैनात की जाएगी। राजस्व मंडलायुक्त (RDC) सुरेश चंद्र दलाई की अध्यक्षता में सोमवार को हुई उच्च स्तरीय वार्षिक रथ यात्रा समन्वय समिति की बैठक में रथ महोत्सव के लिए सुरक्षा व्यवस्था और कई अन्य मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में रथ निर्माण में उपयोग किए जाने वाले परिपक्व पेड़ों की कमी को देखते हुए इनका इस्तेमाल कम करने के तरीकों पर चर्चा की गई।

 

आरडीसी ने वन विभाग के अधिकारियों को रथों के लिए लकड़ी की आवश्यकता को पूरा करने के लिए जगन्नाथ वन प्रकल्प परियोजना को फिर से शुरू करने को कहा। सदस्यों ने खराब स्वच्छता की स्थिति, बिजली की आपूर्ति और कम गुणवत्ता वाले पेयजल के बारे में गंभीर चिंता व्यक्त की। नगर निकाय के कार्यकारी अधिकारी को सभी नालों की जल्द से जल्द सफाई करने के निर्देश दिए गए हैं। आरडीसी ने कार्य विभाग को शहर के अंदर की सड़कों के अलावा पुरी को जोड़ने वाली सभी सड़कों की मरम्मत करने का निर्देश दिया। बैठक में निर्णय लिया गया कि शहर के विभिन्न हिस्सों में 14 प्राथमिक चिकित्सा केंद्र संचालित होंगे और 29 एंबुलेंस तैनात की जाएंगी।

 

किसी भी निजी एम्बुलेंस को अनुमति नहीं दी जाएगी। बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार पांच खाद्य निरीक्षक होटलों और रेस्तरां में खाने-पीने की चीजों की गुणवत्ता सुनिश्चित करेंगे। जगन्नाथ मंदिर के मुख्य प्रशासक वीर विक्रम यादव ने बताया कि रथों को सजाने के लिए कपड़े की पहली खेप गुजरात से पुरी पहुंच गई है और सहकारी कॉयर मिल से आवश्यक मात्रा में खींचने वाली रस्सियां प्राप्त हो गई हैं। टाटा पावर के अधिकारियों ने बैठक में बताया कि पूरे शहर को रोशन करने के लिए 481 लाइट पोस्ट लगाए जा रहे हैं। आरडीसी ने टाटा पावर को खराब हो चुके बिजली के खंभों को बदलने, खुले ट्रांसफार्मरों को ढकने और रथ यात्रा के दौरान निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए शक्तिशाली ट्रांसफार्मर लगाने का निर्देश दिया। सूत्रों ने कहा कि 120 अतिरिक्त पेयजल स्टैंड पोस्ट स्थापित किए जाएंगे जबकि पीने के पानी के 20 मोबाइल टैंकरों को सेवा में लगाया जाएगा। बैठक में जिलाधिकारी समर्थ वर्मा ने रथ यात्रा की तैयारी के कार्यों की प्रगति से अवगत कराया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News