लुंबिनी में बोले PM मोदी-नेपाल के बिना हमारे रामजी अधूरे, अयोध्या में राममंदिर बनने से यहां के लोग भी खुश

punjabkesari.in Monday, May 16, 2022 - 04:05 PM (IST)

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी में कहा कि नेपाल मंदिरों और मठों की भूमि है। पीएम मोदी ने कि भारत में अयोध्या नगरी में भगवान राम का मंदिर बनने से नेपाल के लोग भी खुश है। पीएम मोदी ने कहा कि नेपाल के बिना हमारे राम जी अधूरे हैं।

 

लुंबिनी में लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत-नेपाल की साझी आस्था और साझी संस्कृति है। मुझे पता है कि आज जब भारत में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बन रहा है, तो नेपाल के लोग भी उतना ही खुश हैं। जनकपुर में मैंने कहा था कि “नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं”।

 

भगवान बुद्ध विचार भी आस्था भी
वैशाख पूर्णिमा का दिन लुम्बिनी में सिद्धार्थ के रूप में बुद्ध का जन्म हुआ। इसी दिन बोधगया में वो बोध प्राप्त करके भगवान बुद्ध बने। और इसी दिन कुशीनगर में उनका महापरिनिर्वाण हुआ। एक ही तिथि, एक ही वैशाख पूर्णिमा पर भगवान बुद्ध की जीवन यात्रा के ये पड़ाव केवल संयोग मात्र नहीं था। बुद्ध मानवता के सामूहिक बोध का अवतरण हैं। बुद्ध बोध भी हैं, और बुद्ध शोध भी हैं। बुद्ध विचार भी हैं, और बुद्ध संस्कार भी हैं। लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जिस स्थान पर मेरा जन्म हुआ, गुजरात का वडनगर, वो सदियों पहले बौद्ध शिक्षा का बहुत बड़ा केंद्र था। आज भी वहां प्राचीन अवशेष निकल रहे हैं जिनके संरक्षण का काम जारी है।

 

भारत में सारनाथ, बोधगया और कुशीनगर से लेकर नेपाल में लुम्बिनी तक ये पवित्र स्थान हमारी सांझी विरासत और सांझी मूल्यों का प्रतीक है। हमें इस विरासत को साथ मिलकर विकसित करना है और आगे समृद्ध भी करना है। मायादेवी मंदिर में दर्शन का जो अवसर मुझे मिला, वो भी मेरे लिए अविस्मरणीय है। वो जगह, जहां स्वयं भगवान बुद्ध ने जन्म लिया हो, वहाँ की ऊर्जा, वहाँ की चेतना, ये एक अलग ही अहसास है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News