PM मोदी ने नए वाणिज्य भवन का किया शुभारंभ, बोले-बाधाओं में भी देश का निर्यात 50 लाख करोड़ रुपए रहा

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 03:28 PM (IST)

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को निर्यातकों और उद्योग जगत से अपने लिए दीर्घकालिक निर्यात लक्ष्य तय करने तथा इसे हासिल करने के लिए सरकार को जरूरी सुझाव देने को कहा। उन्होंने वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के नए परिसर- ‘वाणिज्य भवन' का उद्घाटन करने के मौके पर कहा कि निर्यात किसी देश को विकासशील से विकसित बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

 

मोदी ने कहा कि पिछले वित्त वर्ष के दौरान वैश्विक स्तर पर विभिन्न बाधाओं के बावजूद देश का निर्यात (वस्तु एवं सेवा) 670 अरब डॉलर (50 लाख करोड़ रुपए) रहा। उन्होंने कहा कि देश का वस्तु निर्यात 2021-22 में 418 अरब डॉलर (31 लाख करोड़ रुपए) से ऊपर रहा जबकि लक्ष्य 400 अरब डॉलर (30 लाख करोड़ रुपए) था। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले साल की इस सफलता से उत्साहित होकर, हमने अब अपने निर्यात लक्ष्यों को बढ़ा दिया है और उन्हें प्राप्त करने के अपने प्रयासों को दोगुना कर दिया है। इस नये लक्ष्य को हासिल करने के लिए सभी का सामूहिक प्रयास बहुत जरूरी है...।'' 

 

दीर्घकालिक निर्यात का लक्ष्य रखे निर्यातक
प्रधानमंत्री ने कहा कि उद्योग, निर्यातक और निर्यात संवर्धन परिषद के प्रतिनिधि यहां हैं। मैं उनसे अपने लिए न केवल अल्पकालिक बल्कि दीर्घकालिक निर्यात लक्ष्य भी निर्धारित करने का आग्रह करूंगा।'' उन्होंने कहा कि नये वाणिज्य भवन से व्यापार, वाणिज्य और एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम) क्षेत्र से जुड़े लोगों को काफी फायदा होगा। प्रधानमंत्री ने एक नए पोर्टल...निर्यात... का शुभारंभ भी किया। उन्होंने कहा कि निर्यात पोर्टल सभी संबंधित पक्षों को महत्वपूर्ण आंकड़े बिना किसी विलंब के मुहैया कराएगा।

 

निर्यात (व्यापार के सालाना विश्लेषण के लिये राष्ट्रीय आयात-निर्यात रिकॉर्ड) पोर्टल के जरिए संबंधित पक्षों को एक जगह पर भारत के विदेश व्यापार से संबंधित सभी जरूरी जानकारी मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि सरकार कारोबार सुगमता और निर्यात बढ़ाने के लिए काम कर रही है। हथकरघा जैसे नए घरेलू उत्पाद नए बाजारों में पहुंच रहे हैं। मोदी ने कहा कि विकासशील देश को विकसित राष्ट्र बनाने में निर्यात महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। पिछले आठ साल से भारत लगातार अपना निर्यात बढ़ा रहा है। उन्होंने कहा कि बेहतर नीतियों से निर्यात बढ़ाने, प्रक्रिया को आसान बनाने तथा उत्पादों को नए बाजारों में ले जाने में बहुत मदद मिली है। आज सरकार का हर विभाग ‘सरकार' के दृष्टिकोण के साथ निर्यात बढ़ाने को प्राथमिकता दे रहा है।

 

बनाया जाएगा पोर्टल
पीएम मोदी ने मंत्रालय की नई ढांचागत सुविधाओं का जिक्र किया और कहा कि यह समय कारोबार सुगमता तथा रहन-सहन को आसान बनाने के संकल्प का भी है। मोदी ने कहा कि सरकार ने कारोबारी सुगमता के लिए 32,000 से अधिक अनावश्यक अनुपालनों को खत्म कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ संवाद में कोई बाधा नहीं होनी चाहिए और सरकार तक सुगम पहुंच सरकार की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘इस पोर्टल के जरिए विश्व के 200 से अधिक देशों को निर्यात किए जाने वाले 30 से अधिक जिंस समूह से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध होगी। आने वाले समय में जिलेवार निर्यात से संबंधित जानकारी भी इस पर उपलब्ध होगी। इससे जिलों को प्रमुख निर्यात केंद्र के तौर पर विकसित करने के प्रयासों को मजबूती मिलेगी।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News