PM मोदी ने कंबोडियाई समकक्ष के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर की चर्चा

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 12:57 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को एक बैठक दौरान अपने कंबोडियाई समकक्ष हुन सेन के साथ भारत-कंबोडिया के बीच मजबूत विकासात्मक साझेदारी की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने क्षमता निर्माण कार्यक्रमों और मेकांग-गंगा सहयोग कार्ययोजना के तहत प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में सहयोग, कोरोना महामारी के बाद अर्थव्यवस्था में सुधार सहित तमाम द्विपक्षीय मुद्दों पर भी की चर्चा की। दोनों नेताओं ने व्यापार व निवेश, मानव संसाधन विकास, रक्षा व सुरक्षा, संपर्क और कोरोना महामारी के बाद अर्थव्यवस्था में सुधार सहित तमाम द्विपक्षीय मुद्दों पर भी चर्चा की।

 

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई इस वार्ता के दौरान दोनों नेताओं ने साझा हितों से जुड़े क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चा की और अपने द्विपक्षीय सहयोग की गति पर संतोष जताया। पीएमओ ने कहा, ‘‘दोनों नेताओं ने व्यापार व निवेश, मानव संसाधन विकास, रक्षा व सुरक्षा, विकास में सहयोग, संपर्क, महामारी के बाद अर्थव्यवस्था में सुधार और लोगों के बीच संबंधों के मामलों में सहयोग सहित संपूर्ण द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की।’’ पीएमओ ने कहा कि दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय सहयोग की गति पर संतोष जताया। बयान के मुताबिक प्रधानमंत्री हुन सेन ने भारत के साथ कंबोडिया के संबंधों की अहमियत पर जोर दिया तो प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी भावना का जवाब देते हुए कहा कि कंबोडिया भी भारत की ‘‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’’ में अहम भूमिका निभा रहा है।

 

दोनों नेताओं ने क्षमता निर्माण कार्यक्रमों और मेकांग-गंगा सहयोग कार्ययोजना के तहत प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में सहयोग सहित भारत-कंबोडिया के बीच मजबूत विकासात्मक साझेदारी की समीक्षा की। प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक और सभ्यतागत संबंधों को रेखांकित किया और कंबोडिया में अंकोरवाट और प्रीह विहार मंदिरों के पुन:स्थापन में भारत की भूमिका पर खुशी जताई। उन्होंने कहा कि यह दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक और भाषायी संबंधों को दर्शाता है। वार्ता के दौरान प्रधानमंत्री हुन सेन ने क्वाड टीकाकरण पहल के तहत भारत की ओर से कोवीशिल्ड टीकों की 3.25 लाख खुराक प्रदान करने के लिए भारत का आभार जताया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News