पीएम मोदी और राष्ट्रपति कोविंद ने दी ओणम की बधाई, जानिए इस त्योहार का महत्व

2019-09-11T10:33:38.933

नेशनल डेस्क: दक्षिण भारत का प्रमुख त्‍योहार ओणम आज धूमधाम से मनाया जा रहा है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी इस अवसर पर देश वासियों को बधाई दी। कोविंद ने ट्वीट कर कहा कि ओणम पर, भारत और विदेशों में रह रहे केरल के हमारे भाइयों और बहनों को शुभकामनाएं एवं बधाइयां। फसल तैयार होने के अवसर पर मनाया जाने वाला यह त्योहार हम सभी के लिए असीम खुशियां और समृद्धि लेकर आता है।

PunjabKesari

वही पीएम मोदी ने कहा कि ओणम के शुभ अवसर पर शुभकामनाएं। मैं कामना करता हूं कि यह त्योहार हमारे समाज में खुशी, कल्याण और समृद्धि की भावना को आगे बढ़ाये। ओणम राजा महाबली के स्वागत में प्रति वर्ष आयोजित किया जाता है जो दस दिन तक चलता है।

PunjabKesari

ओणम का त्‍योहार दक्षिण भारत में खासकर केरल में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। इस खासतौर पर खेतों में फसल की अच्छी उपज के लिए मनाया जाता है। 1 सितंबर से शुरू हुआ यह त्योहार 13 सितंबर तक मनाया जाएगा। ओणम इसलिए भी विशेष है क्योंकि इसकी पूजा मंदिर में नहीं बल्कि घर में की जाती है। मान्यता है कि राजा महाबली ने ओणम के दिन ही भगवान विष्णु से अपनी प्रजा से वर्ष में एक बार मिलने की अनुमति मांगी थी। इसलिए माना जाता है कि ओणम पर स्वयं राजा महाबली धरती पर उतरते हैं और अपनी प्रजा से मिलने आते हैं। 

PunjabKesari

ओणम उत्सव के दौरान एक पारंपरिक दावत समारोह का आयोजन किया जाता है। इस समारोह में मीठे व्यंजनों के अलावा नौ स्वादिष्ट व्यंजन बनाते हैं जिनमें पचड़ी काल्लम, ओल्लम, दाव, घी, सांभर, केले और पापड़ के चिप्स  मुख्य रूप से बनाए जाते हैं। इन व्यंजनों को केले के पत्तों पर परोसा जाता है। लोग अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और परिवार वालों को इस पर्व की शुभकामनाएं देते हैं।
 


vasudha

Related News