See More

एलओसी पर 20 हजार पाक सौनिकों की नहीं हुई तैनाती, चीनी सैनिकों की मौजूदगी से भी पाकिस्तान का इनकार

2020-07-02T18:32:58.953

नई दिल्लीः पाकिस्तानी सेना ने मीडिया में आई उन खबरों को "गलत और गैर जिम्मेदाराना" बताते हुए बृहस्पतिवार को खारिज कर दिया कि उसने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीनी सैनिकों की तैनाती को देखते हुए पीओके और गिलगित-बाल्तिस्तान में सीमा पर करीब 20,000 अतिरिक्त सैनिक तैनात किए हैं। सेना के मीडिया विंग ने ट्विटर पर एक बयान में पाकिस्तान में चीनी सैनिकों की उपस्थिति से इनकार किया और उन खबरों का खंडन किया कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में स्कर्दू एयरबेस का उपयोग चीन द्वारा किया जा रहा है।

इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के महानिदेशक मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने कहा कि गिलगित-बाल्तिस्तान में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर अतिरिक्त पाकिस्तानी सैनिकों की तैनाती और चीन द्वारा स्कर्दू एयरबेस के कथित इस्तेमाल का दावा करने वाली खबरें "गलत, गैर-जिम्मेदार और सच्चाई से कोसों दूर हैं।" उन्होंने कहा कि अतिरिक्त सैनिकों की ऐसी कोई तैनाती नहीं हुयी है। इसके साथ ही हम पाकिस्तान में चीनी सैनिकों की मौजूदगी से भी इनकार करते हैं।

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच सैन्य टकराव के बीच मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि पाकिस्तान ने पूर्व में एलएसी पर चीनी सैनिकों की तैनाती को देखते हुए पीओके और गिलगित-बाल्तिस्तान में एलओसी पर लगभग 20,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान द्वारा तैनात किए गए सैनिकों की संख्या बालकोट हवाई हमलों के बाद तैनात सैनिकों से कहीं अधिक है।

 

 

 


Yaspal

Related News