पाकिस्तान ने 1100 भारतीय सिख तीर्थ यात्रियों को दिया वीजा, वजह है खास

2021-04-08T12:16:13.497

पेशावरः पाकिस्तान ने 1100 भारतीय सिख तीर्थ यात्रियों को वीजा जारी किया है। पाकिस्तान उच्चायोग ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि पाकिस्तान सरकार ने पंजाबी और सिखों के लिए बैसाखी पर्व के महत्व के देखते हुए यह फैसला किया है। यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब दोनों देशों के रिश्तों में कुछ बदलाव आया है।

 

भारत और पाकिस्तान की सेनाएं पिछले दिनों 2003 के सीजफायर समझौते को लागू करने पर सहमत हुई हैं। पिछले दिनों पाकिस्तान ने भारत से कपास और चीनी आयात को मंजूरी दी थी। हालांकि, विपक्ष और अपने ही कुछ मंत्रियों के दबाव में इमरान सरकार को यह फैसला वापस लेना पड़ा। धार्मिक यात्रा पर भारत और पाकिस्तान के बीच 1974 में स्थापित प्रॉटोकॉल के तहत हर साल बड़ी संख्या में सिख तीर्थ यात्री विभिन्न त्योहारों को मनाने के लिए पड़ोसी देश में जाते हैं।

 

बता दें कि सिखों के कई बड़े धार्मिक स्थल बंटवारे के बाद पाकिस्तान के हिस्से में चले गए। उच्चायोग ने कहा कि वीजा जारी करना धार्मिक तीर्थस्थलों की यात्राओं की सुविधा के लिए पाकिस्तान सरकार के प्रयासों का हिस्सा है। उच्चायोग ने कहा, ''इससे यह भी प्रदर्शित होता है कि पाकिस्तान सरकार धार्मिक स्थलों की यात्रा पर द्विपक्षीय प्रोटोकॉल को ईमानदारी से लागू करने करने को प्रतिबद्ध है।''


Content Writer

Tanuja

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static