नितिन गडकरी ने दिए संकेत, अगले 2 से 3 महीने में फास्ट टैग हो जाएंगे अनिवार्य, प्रक्रिया पर हो रहा है काम

2020-11-27T22:26:54.48

नेशनल डेस्कः केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि सड़क निर्माण परियोजनाओं पर कोविड-19 का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। शुक्रवार को एक कार्यक्रम में बातचीत के दौरान गडकरी ने कहा, निर्माण उपकरण ’निर्माताओं की क्षमता में 80 फीसदी की वृद्धि हुई है, जो लगभग दोगुना है।‘

गडकरी ने कहा कि इस कठिन आर्थिक समय में बिल्डरों और ठेकेदारों की स्थिति में सुधार करने के लिए एक बड़ी पहल की गई है। इस दौरान नितिन गडकरी ने फास्ट टैग को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा, 'अगले 2 से 3 महीने में फास्ट टैग अनिवार्य हो जाएगा, हम इस प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं। इसके साथ ही दुर्घटनाओं को रोकने के लिए राजमार्गों पर काले धब्बों पर वास्तविक समय के अपडेट के लिए एक पोर्टल विकसित किया जा रहा है। गडकरी ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं और मौतों में लगभग 20 फीसदी की कमी आई है।

सड़कों का अलाइनमेंट सीधा रखने का फैसला
गडकरी ने कहा कि कई बार हाईवे घुमाव वाले होते हैं, हमने सड़कों का अलाइनमेंट सीधा रखने का फैसला किया है। हम दिल्ली-अमृतसर के बीच ग्रीन हाईवे बना रहे हैं, दोनों शहरों के बीच छह घंटे में सफर होगा। अभी दिल्ली से मेरठ जाने में 3-4 घंटे लगते हैं। अब केवल 45 मिनट का समय लगेगा। इस तरह का काम हर राज्य में चल रहा है। वहीं, नेशनल हाइवे अथॉर्रिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के कामकाज को लेकर किए गए सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि एनएचएई में ऐसे लोग हैं जो प्रक्रिया को फास्ट ट्रैक नहीं करते, उनसे में कहता है कि या तो आप अपना काम कीजिए वरना जॉब छोड़ दीजिए।


Yaspal

Recommended News