PM को ''बहरा'' और राहुल को ‘पप्पू’ बता चुकी हैं NCW प्रमुख, ट्वीट वायरल होते ही लॉक किया अकाउंट

2020-10-22T11:22:20.043

नेशनल डेस्क: राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने महाराष्ट्र में ‘लव जेहाद के मामलों में बढ़ोतरी' संबंधी टिप्पणी और अपने कुछ पुराने ट्वीट से विवाद को जन्म दे दिया है। उनके इस ट्वीट के बाद कई नेताओं एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं ने उन्हें हटाए जाने की मांग उठाई है। हालांकि शर्मा ने दावा किया कि उनका अकाउंट हैक हो गया है और किसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ट्वीट किया है। बाद में उन्‍होंने अपना अकाउंट लॉक कर लिया। 

PunjabKesari

क्या है मामला
दरअसल रेखा शर्मा ने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और ‘लव जिहाद के बढ़ते मामलों' समेत राज्य में महिलाओं से जुड़े विषयों पर बातचीत की। आयोग के एक बयान के अनुसार शर्मा ने दावा किया कि महाराष्ट्र में ‘लव जिहाद' के मामलों में इजाफा हुआ है। उन्होंने आपसी सहमति से भिन्न धर्मों के लोगों के विवाह और लव जिहाद के बीच अंतर को रेखांकित करते हुए इस विषय पर राज्यपाल का ध्यान आकर्षित किया। 

 

कई मशहूर लोगों के खिलाफ किए थे ट्वीट
NCW चीफ द्वारा 'लव जिहाद' को मान्‍यता देने पर लोग भड़क गए और उनके पुराने ट्वीट्स खंगालने शुरू किए। एक के बाद एक ऐसे ट्वीट्स सामने आए जिसे लेकर विवाद खड़ा हो गया। यह ट्वीट रेखा शर्मा के महिला आयोग अध्यक्ष बनने से पहले के समय के हैं। उनके अकाउंट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, कवि कुमार विश्‍वास, नेहरू-गांधी परिवार समेत कई मशहूर लोगों के खिलाफ बेहद आपत्तिजनक ट्वीट किए गए थे, जिनके स्‍क्रीनशॉट्स ट्विटर पर वायरल हो रहे हैं। 

PunjabKesari
सोनिया गांधी पर बोला था हमला 
2012 के एक ट्वीट में, शर्मा ने लिखा कि पीएम मोदी ‘एक बहरे और गूंगे इंसान हैं, जिनकी ज़िंदगी मानसिक रूप से विकलांग महिलाओं के इर्द-गिर्द घूमती है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की आलोचना करते लिखा था कि उनकी मानसिक हालत को देखते हुए उन्हें किसी ‘पागलख़ाने’ भेज देना चाहिए। इतना ही नहीं 2015 में उन्होंने राहुल गांधी पर एक मीम भी शेयर किया, जिसमें उन्हें ‘पप्पू’ कहा गया था, साथ ही उन्होंने पीएम मोदी को ‘भारत का गर्व’ क़रार दिया। सोशल मीडिया पर आलोचना का सामना करने के बाद NCW चीफ ने अपने ट्वीट डिलीट कर दिए और ट्विटर अकाउंट लॉक कर दिया है। 

PunjabKesari

रेखा शर्मा को पद से हटाने की उठी मांग
उल्लेखनीय है कि सरकार ने संसद में कहा है कि मौजूदा कानून के तहत ‘लव जेहाद' जैसी कोई शब्दावली को परिभाषित नहीं है तथा किसी केंद्रीय एजेंसी की तरफ से ऐसा कोई मामला रिपोर्ट नहीं किया गया। कई दक्षिणपंथी संगठन अंतर-धार्मिक विवाह के मामलों के लिए अक्सर इस शब्दावली का इस्तेमाल करते हैं। रेखा शर्मा की टिप्पणी को लेकर विवाद खड़ा होने के बाद कई सामाजिक कार्यकर्ताओं और नेताओं ने उन्हें हटाए जाने की मांग की। आम आदमी पार्टी (आप) की प्रवक्ता आतिशी ने कहा कि रेखा शर्मा को तत्काल एनसीडब्ल्यू अध्यक्ष पद से हटाया जाए। उन्होंने कहा, ‘‘कैसे ऐसी महिला गलत, घृणित और नारी विरोधी मानसिकता के साथ उस संस्था की अध्यक्षता कर सकती है, जिसकी स्थापना महिलाओं के अधिकारों की रक्षा के लिए की गई है? हम एनसीडब्ल्यू अध्यक्ष पद से रेखा शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने की मांग करते हैं।
 


vasudha

Related News