भारत में वैक्सीन की वजह से पहली मौत की पुष्टि, 68 साल के बुजुर्ग की गई जान

2021-06-15T14:44:58.127

नेशनल डेस्क:  देश में कोरोना टीके के साइड इफैक्ट का अध्ययन कर रहे सरकारी पैनल ने टीके के चलते एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि की है। पैनल ने 68 वर्षीय व्यक्ति की एनाफिलॉक्सिस से मौत स्वीकार की है। एनाफिलॉक्सिस एक तरह का एलॢजक रिएक्शन है। यह कोरोना टीके से भारत में पहली मौत मानी जाएगी।  इस  व्यक्ति  की मौत 8 मार्च 2021 को हुई थी। पैनल ने टीका लेने के बाद जिन केसों की जांच की थी उनमें से 5 लोगों को 5 फरवरी को टीका लगाया गया था। इसके अलावा 8 लोगों ने 9 मार्च को टीका लगवाया था और 18 लोग ऐसे थे जिन्होंने 31 मार्च को टीका लगवाया था। टीका लगवाने के बाद एनाफिलॉक्सिस के  चलते  मौत का यह पहला  मामला है जो जांच के बाद दर्ज किया गया है। 

PunjabKesari

टीका लगवाकर केंद्र पर 30 मिनट रुकना इसलिए जरूरी 
पैनल के चेयरमैन डॉ. एन.के. अरोड़ा ने कहा कि एक बार फिर से हम यह सलाह देंगे कि टीका लगने के 30 मिनट बाद तक टीकाकरण केंद्र पर ही रुकें। इसी अवधि में कई बार साइड इफैक्ट्स देखे जाते हैं और उसके बाद तत्काल इलाज मिलने  पर  उसे  नियंत्रित  किया जा सकता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Recommended News