फिर लगा Lockdown तो चुकानी पड़ेगी भारी कीमत!

2020-11-24T16:26:21.637

नेशनल डेस्क: साल 2019 में शुरू हुई कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में अब तक कहर बरपाना कम नहीं किया। कुछ देशों ने तो दोबारा लॉकडाउन लागू भी कर दिया है तो वहीं कुछ इस पर गहनता से विचार कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मामलों में भारत का स्थान दूसरे नंबर पर है जबकि अन्य राज्यों के साथ साथ दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर शुरू हो गई है जिससे लोगों में डर का माहौल है। ऐसे में हर किसी के मन में एक ही सवाल है अगर इस बार देश में लॉकडाउन लगा तो क्या होगा? 

PunjabKesari

लॉकडाउन से कईं सेक्टर हो जाएंगे तबाह
देश में 25 मार्च से लगे लॉकडाउन से कईं काम ठप हो गए, हजारों लोगों की नौकरी चली गई थी। भारत में मौजूदा लॉकडाउन का इन कामगारों पर बड़ा प्रभाव पड़ा था। कामकाज बंद होने से उनमें से कई अपने गांवों को लौट गए हैं। ऐसे में अगर देश में दोबारा लॉकडाउन होता है तो हालात काफी बदतर हो सकते हैं। लॉकडाउन का बड़ा असर लोगों की नौकरियों और कमाई पर दिख सकता है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अगर देश में नया लॉकडाउन होता है तो कई ऐसे सेक्टर तबाह हो जाएंगे, जो अब तक उबर नहीं पाए हैं। 

PunjabKesari

लॉकडाउन से कारोबारियों को लगेगा बड़ा झटका
लॉकडाउन लगा तो कारोबारियों पर इसका सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ेगा। दरअसल शादी समारोह में मेहमानों की संख्या में छूट मिलने के बाद से शादी वाले घर के साथ ही कारोबारियों में भी खुशी छा गई थी। उन्हें उम्मीद जागी थी कि अब बहुत ज्यादा नहीं तो थोड़ा बहुत कारोबार तो पटरी पर आ ही जाएगा।  दीवाली के बाद शादियों का सीजन शुरू होता है। खासतौर से कपड़ा बाजार, फूल बाजार, इवेंट कंपनियां, आतिशबाजी वाले, मैरिज होम, होटल-रेस्टोरेंट, कैटरिंग, बैंडबाजा पार्टी, किराना और ड्राइ फ्रूट बाजार। ऐसे में अगर देश में दोबारा लॉकडाउन लगता है तो कारोबारियों को बड़ा झटका लगेगा। 

PunjabKesari

सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां
एक तरफ जहां कोरोना का पूरे देश में आंतक हैं तो वहीं त्योहारों की वजह से बाजारों में भी खूब भीड़ देखने को मिली। कुछ हफ्तों में बाजारों में भीड़ भाड़ भी देखने को मिली जिसकी तस्वीरें सामने आ रही हैं। जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती साफ देखी जा सकती है। ग्राहकों से खचाखच भरी बाजारों की तस्वीरों से यह सिद्ध होता है कि ग्राहकों और दुकानदारों ने कोरोना संबंधी नियमों को पूरी तरह से ताक पर रख दिया। संक्रमण के मामलों के बढऩे में इस लापरवाही का बड़ा हाथ है। लोग यह सोच रहे हैं कि अगर देश में एक बार फिर लॉकडाउन बढ़ गया तो क्या होगा?

PunjabKesari

अफवाहों ने अपनों ने किया अपनों को दूर
भारत में कोरोना के केस तेजी से सामने आ रहे हैं। यह रफ्तार दिन-ब-दिन बढ़ रही है जो चिंता का विषय है, लेकिन उससे भी ज़्यादा चिंतित कर रही हैं अफवाहें। कुछ जगहों पर अन्य बीमारी से मरने वाले लोगों कि मौतों को भी कोरोना से जोड़ दिया गया। उसका असर यह हुआ कि लोग परिजनों को सांत्वना तक देने से कतराने लगे। इन सारे अफवाहों को देखकर लगता है कि भारत को जितनी बड़ी लड़ाई कोरोना से लडऩी है उतनी ही बड़ी लड़ाई इन अफवाहों से भी लड़नी है। 

PunjabKesari

क्या है देश की स्थिति
राजधानी दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में सर्दियों की शुरुआत होते ही कोरोना के मामले में एक बार फिर बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। हालत यह है कि इन सभी राज्यों ने दोबारा पाबंदियां लगाना शुरू कर दी हैं। हाल ही में दिल्ली सरकार ने एक बार फिर समारोह में अधिकतम 50 लोगों की सीमा तय कर दी है। हर राज्य अपने स्तर से कोरोना को रोकने के लिए पाबंदियां लागू कर रहा है। 


Edited By

Anil dev

Recommended News