Nagrota Encounter: मसूद अजहर का भाई दे रहा था आतंकियों को आदेश, सेना के हाथ लगी चैट हिस्ट्री

2020-11-21T17:50:58.777

नेशनल डेस्कः जम्मू-कश्मीर हाइवे पर नगरोटा प्लाजा के पास मारे गए आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी लगातार पाकिस्तान में बैठे अपने हैंडलर के संपर्क में थे। इस बात का खुलासा आतंकियों से बरामद डिजिटल मोबाइल रेडियो सेट से हुआ है। पाकिस्तान में बने इस डिजिटल मोबाइल रेडियो से जांच एजेंसियों को आतंकियों और उनके हैंडलर के बीच चैट के संदेश भी मिले हैं, जिसमें हैंडलर आंतकियों से पूछ रहा है, पहुंच गए? कोई परेशानी तो नहीं आई? ये सारे संदेश रात 2 बजे के आसपास रिकॉर्ड हुए हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आतंकियों को ये संदेश पाकिस्तानी हैंडलर और मसूद अजहर के भाई रऊफ अजहर दे रहा था. खुफिया सूत्रों के हवाले से खबर है कि रऊफ अजहर इस वक्त पाकिस्तान में ही है। पिछले एक हफ्ते से जम्मू के कठुआ जिले के सामने पाकिस्तान के शक्करगढ़ पोस्ट इलाके में उसे देखा गया है। सेना के हाथ लगी चैट हिस्ट्री से ये पता चलता है कि आतंकियों को भारत भेजकर हमला कराने का पूरा प्लान रऊफ अजहर का ही था।

सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को किया था ढेर
दरअसल, जम्मू के नगरोटा में बीती गुरुवार सुबह हुए एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को ठिकाने लगाकर पाकिस्तान की एक बड़ी साजिश नाकाम कर दिया था। इस एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने AK सीरिज की 11 राइफलों समेत चीन में बने हुए 30 हैंड ग्रेनेड, रॉकेट लॉन्चर से दागे जाने वाले 6 ग्रेनेड, 3 पिस्टल, 2 आईईडी रिमोट, 2 कटर, दवाई, कंबल, सूखे मेवे और अर्धनिर्मित विस्फोटक बरामद किए थे। सुरक्षाबलों के मुताबिक, यदि आतंकी कश्मीर में घुसने में कामयाब हो जाते तो वे मुंबई की तरह बड़े कत्लेआम को अंजाम दे सकते थे।


Yaspal

Related News