हैदराबाद: आरोपी की पत्नी बोली- जहां पति को मारा, वहीं मुझे भी मार दो

12/7/2019 8:24:10 AM

हैदराबाद: बलात्कार और हत्या के चारों आरोपियों के परिवार कथित पुलिस मुठभेड़ में अपने परिजन के मारे जाने की खबर पाकर स्तब्ध रह गए। मुख्य आरोपी मोहम्मद आरिफ की मां अवाक थी और उसने बस इतना कहा कि मेरा बेटा नहीं रहा। आरिफ के पिता ने पहले कहा था कि उसके बेटे ने यदि गुनाह किया है तो वह कड़ी से कड़ी सजा का हकदार है। चेन्नकेशावुलू की गमगीन पत्नी ने कहा कि पुलिस को उसे भी मार देना चाहिए क्योंकि पति की मौत के बाद उसके लिए कुछ बचा नहीं है। 

PunjabKesari
उसने कहा,‘मुझसे कहा गया कि मेरे पति को कुछ नहीं होगा और वह जल्द लौट आएगा। अब मुझे नहीं पता कि मैं क्या करूं। मुझे भी उसी जगह ले जाइए जहां मेरे पति को मार डाला गया और मुझे भी मार डालिए।'चेन्नेशावुलू की हाल ही में शादी हुई थी। शिवा के पिता जोल्लू रामप्पा ने कहा कि हो सकता है कि उसके बेटे ने अपराध किया हो लेकिन वह ऐसी परिणति का हकदार नहीं था। मीडियाकर्मियों के सवालों के जवाब में उसने कहा,‘कई लोगों ने बलात्कार एवं हत्याएं की हैं लेकिन उन्हें इस तरह नहीं मारा गया। उनके साथ भी ऐसा ही बर्ताव क्यों नहीं किया गया।' 


स्थानीय लोगों का कहना है कि चारों आरोपी कम पढ़े-लिखे और आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से थे लेकिन वे अच्छा कमाते थे, खर्चीली जिंदगी जीते थे एवं शराब एवं अन्य चीजों पर पैसे खर्च करते थे। आरिफ (26) ट्रक ड्राइवर बनने से पहले एक स्थानीय पेट्रोल पंप पर काम करता था। वह तेलंगाना के नारायणपेट जिले के जाकलर गांव का था। अन्य आरोपी जोल्लू शिवा और जोल्लू नवीन क्लीनर का काम करते थे और उसी जिले के गुडिगंडला गांव के रहने वाले थे। दोनों की उम्र 20 साल थी। 

PunjabKesari
चिंटाकुंटू चेन्नकेशावुलू (20) भी उसी गांव का था और ट्रक ड्राइवर था। उन्हें जानने वाले लोग बताते हैं कि चेन्नकेशावुलू को गुर्दे की बीमारी थी। मकथल नामक एक व्यक्ति ने कहा कि उनके माता-पिता उन्हें नियंत्रित नहीं कर सके क्योंकि वे पढे-लिखे नहीं हैं। वे लोग भले ही अच्छा कमाते थे लेकिन उनकी कोई जवाबदेही नहीं थी। वे कम उम्र से ही शराब पीने लगे थे।


shukdev

Related News