देश की 50 प्रतिशत से अधिक आबादी 25 साल या अधिक उम्र की : सर्वेक्षण

2020-07-03T22:58:48.907

नई दिल्लीः एक नवीनतम सर्वेक्षण में कहा गया है कि भारत की आबादी का 50 प्रतिशत से अधिक हिस्सा अब 25 साल या अधिक उम्र का है। भारत के महा पंजीयक एवं जनगणना आयुक्त द्वारा तैयार हाल में जारी नमूना पंजीकरण तंत्र 2018 में कहा गया है कि 25 साल से कम उम्र के लोगों का देश की आबादी में 46.9 प्रतिशत हिस्सा है। इसके मुताबिक 25 साल से कम उम्र की आबादी में 47.4 प्रतिशत पुरुष और 46.3 प्रतिशत महिलाएं हैं। 
PunjabKesari
हालांकि बिहार, उत्तरप्रदेश और केरल जैसे राज्यों में इस आयु वर्ग में आबादी राष्ट्रीय औसत से थोड़ा अधिक है। आबादी की तुलना में सबसे अधिक 3.2 प्रतिशत प्रजनन दर के साथ बिहार में 25 साल से कम उम्र की आबादी 57.2 प्रतिशत है। उत्तरप्रदेश में 25 साल से कम उम्र की 52.7 प्रतिशत आबादी है। कुल 2.9 प्रतिशत के साथ देश में प्रजनन दर के मामले में यह दूसरे स्थान पर ह । केरल में 1.7 प्रतिशत प्रजनन दर के साथ 25 साल से कम की 37.4 प्रतिशत आबादी है। 
PunjabKesari
प्रति महिला के हिसाब से बच्चों की औसत संख्या के आधार पर प्रजनन दर की गणना की जाती है। शहरी इलाके में कम प्रजनन दर के कारण 25 साल से नीचे की आबादी ग्रामीण इलाकों की तुलना में कम है। बिहार 26.2 प्रतिशत के साथ जन्म दर के मामले में शीर्ष पर है और अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में सबसे कम 11.2 प्रतिशत जन्म दर है। 

छत्तीसगढ़ में मृत्यु दर सबसे अधिक आठ प्रतिशत है और सबसे कम दिल्ली में 3.3 प्रतिशत है। जन्म दर की गणना प्रति एक हजार जनसंख्या पर की जाती है। पिछले चार दशकों में देश में मृत्यु दर में गिरावट आई है। वर्ष 1971 में यह दर 14.9 प्रतिशत थी जो 2018 में 6.2 प्रतिशत हो गई। ग्रामीण क्षेत्रों में गिरावट में कमी आई है। पिछले दशक में अखिल भारतीय स्तर पर मृत्यु दर 7.3 प्रतिशत से घटकर 6.2 प्रतिशत हो गई। 


Pardeep

Related News