मानसून की दस्तक! मौसम विभाग ने केरल के पांच जिलों के लिए जारी किया ‘रेड अलर्ट''

punjabkesari.in Sunday, May 15, 2022 - 06:33 PM (IST)

नेशनल डेस्क: दक्षिण पश्चिम मानसून के दस्तक देने से कई दिन पहले ही केरल में बारिश का दौर शुरू हो गया है। इस बीच, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को राज्य के पांच जिलों में रविवार और सोमवार को मूसलाधार बारिश होने की चेतावनी जारी की है। आईएमडी ने एर्णाकुलम, इडुकी, त्रिशूर, मलाप्पुरम और कोझिकोड में रविवार को भारी बारिश होने के मद्देनजर ‘‘रेड अलर्ट'' जारी किया है।

इन जिलों के लिए रेड अलर्ट
वहीं विभाग ने सोमवार के लिए एर्णाकुलम, इडुकी, त्रिशूर, कोझिकोड और कन्नूर जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। विभाग के मुताबिक कासरगोड को छोड़कर राज्य के बाकी जिलों के लिए रविवार को ‘ऑरेंज अलर्ट'' जारी किया गया है। केरल के राजस्व मंत्री के.राजन ने मीडिया को बताया कि सभी जिलाधिकारियों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के निर्देश दिए गए हैं। राजन ने कहा, ‘‘ हमने मुख्य सचिव की अध्यक्षता में शनिवार को बैठक की थी। सभी जिलाधिकारियों और संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं।

इस समय नदियां उफान पर नहीं हैं। हमने पहाड़ी जिलों के लिए विशेष निर्देश जारी किए हैं और खतरा विश्लेषकों को स्थिति पर करीब से नजर रखने को कहा है।'' उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों को सतर्क कर दिया गया है और जरूरत पड़ने पर खतरे वाले इलाकों से बिना देरी लोगों को निकाला जाएगा। राजन ने कहा,‘‘इस समय राहत शिविर खोलने की जरूरत नहीं है। लेकिन हमें सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि अगर बारिश जारी रहती है तो भूस्खलन की आशंका है।''

जानें क्या है रेड-ऑरेंज-येलो अलर्ट
मौसम विभाग के मुताबिक रेड अलर्ट का अभिप्राय है कि 24 घंटे में करीब 20 सेंटीमीटर बारिश हो सकती है। वहीं ऑरेंज अलर्ट का अभिप्राय है कि इस अवधि में छह से 20 सेंटीमटर तक बारिश हो सकती है, जबकि येलो अलर्ट के तहत 24 घंटे में छह से 11 सेंटीमीटर बारिश होने की संभावना होती है। मौसम वैज्ञानिकों ने शनिवार को एर्णाकुलम और इडुकी के लिए रेड अलर्ट जारी किया था। एर्णाकुलम में पूरी रात हुई बारिश की वजह से रविवार को शहर में जलजमाव की स्थिति रही। जलजमाव से प्रभावित परिवारों के लिए दो शिविर खोले गए हैं। कई जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी होने के मद्देनजर राज्य सरकार और राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एसडीएमए) ने लोगों को नदियों और जलाशयों से दूर रहने को कहा है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News