पुणे में केमिकल फैक्ट्री में आग लगने से 18 कर्मचारियों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

6/8/2021 5:33:22 AM

नेशनल डेस्कः पुणे जिले के एक औद्योगिक क्षेत्र में स्थित एक रासायनिक संयंत्र में सोमवार को भीषण आग लगने से कम से कम 18 कर्मचारियों की मौत हो गई और पांच अन्य लोग लापता हो गए। मृतकों में अधिकतर महिलाएं हैं। अग्निशमन विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 
PunjabKesari
अधिकारियों ने बताया कि आग एसवीएस एक्वा टेक्नोलॉजीज के संयंत्र में लगी जिसमें क्लोरीन डायऑक्साइड का उत्पादन होता है। यह संयंत्र पुणे शहर के पास मुलशी तहसील के पीरागुंट इलाके में स्थित है। मुलशी संभाग के सब डिविजनल मजिस्ट्रेट संदेश शिरके ने कहा, ‘‘अभी तक 18 शव बरामद किए गए हैं। अंधेरे और आग लगने से पैदा हुई गर्मी के कारण हमने तलाशी अभियान बंद कर दिया है।'' 
PunjabKesari
पीएमआरडीए (पुणे महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण) के मुख्य अग्निशमन अधिकारी देवेंद्र पोटफोडे ने कहा कि संयंत्र में लगी आग पर काबू के लिए छह से सात दमकल वाहन भेजे गए और आग पर काबू पा लिया गया है तथा लापता कर्मियों की तलाश की जा रही है। आग लगने के कारण के बारे में पूछे जाने पर पोटफोडे ने कहा कि कंपनी के अधिकारियों के अनुसार परिसर में प्लास्टिक सामग्री की पैकिंग किए जाने के क्रम में आग लगी। 

उन्होंने कहा कि पैकेजिंग हिस्से में कुछ चिंगारी के कारण आग लगी और चारों ओर प्लास्टिक होने के कारण यह तेजी से फैल गई। पुणे जिले के पुलिस अधीक्षक डॉ अभिनव देशमुख ने कहा कि संयंत्र में जल शोधन के लिए क्लोरीन डाइऑक्साइड का उत्पादन होता है।

पीएम मोदी ने जताया दुख, सहायता राशि की घोषणा 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को महाराष्ट्र के पुणे में रसायन के एक कारखाना में आग लगने से हुई मौतों पर शोक व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को पचास-पचास हजार रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘महाराष्ट्र के पुणे में रसायन के एक कारखाना में आग लगने के कारण हुई मौतों से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना।'' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News

static