नेकां छोड़ आए पूर्व मंत्री ने कहा शोषण और भेदभावपूर्ण राजनीति का युग खत्म

punjabkesari.in Monday, Feb 28, 2022 - 01:27 PM (IST)

साम्बा : प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया ने आज कहा कि जम्मू-कश्मीर में शोषण और भेदभाव की राजनीति का युग समाप्त हो गया है और क्षेत्र और धर्म से ऊपर उठ कर सभी के लिए प्रगति और विकास करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सभी के लिए विकास के अवसर सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विकास के पोषित एजेंडे का सिद्धांत हैं। नेकां छोड़ भाजपा में शामिल हुए सलाथिया अब अल्पसंख्यकों को भाजपा से जोडऩे में जुटे हैं और इसी क्रम में उन्होंने रविवार को विजयपुर विधानसभा क्षेत्र के राया और बड़ी खड्ड में लोगों को संबोधित किया।


सलाथिया ने कहा कि सामाजिक न्याय समाज के सामंजस्यपूर्ण विकास की कुंजी है और इस संबंध में पिछले सात वर्षों के दौरान प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा विभिन्न पहलों का उल्लेख किया, जिनके परिणामस्वरूप देश भर के लोगों के साथ-साथ जम्मू और कश्मीर में भी लोगों के जीवन में स्पष्ट परिवर्तन आया है। उन्होंने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में विभिन्न रोजगार योजनाओं के तहत बेरोजगारी की समस्या और नौकरियों के सृजन के लिए सक्रिय कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन पहलों से बड़े पैमाने पर औद्योगीकरण और पुनर्निवेश को बढ़ावा मिलेगा। कार्यकर्ताओं को जमीनी स्तर पर पार्टी को मजबूत करने का आह्वान करते हुए सलाथिया ने कहा कि एक मजबूत और जीवंत भाजपा जम्मू-कश्मीर के सामने आने वाली चुनौतियों का जवाब है।

 

जनसंपर्क कार्यक्रम के दौरान, स्थानीय लोगों ने प्रदेश उपाध्यक्ष को सामूहिक समस्याओं के साथ-साथ अपने क्षेत्रों का सामना करने वाले लोगों से अवगत कराया। राया में जनसभा का आयोजन सरपंच दलजीत सिंह द्वारा किया गया था और इस अवसर पर उपस्थित लोगों में बीडीसी अध्यक्ष विजयपुर योगेश्वर सिंह, अध्यक्ष बीडीसी रामगढ़ दर्शन सिंह के अलावा सरपंच बृजपाल सिंह, जितेंद्र सिंह, तारा सिंह, कैप्टन जसवीर सिंह, सुभाष चंद्र शर्मा, तेजिंदर कौर मौजूद रहे जबकि बड़ी खड्ड में जनसभा का आयोजन यूसुफ मोहम्मद ने किया था। उपस्थित लोगों में कर्नल राशिद अहमद, मुस्तफा अहमद सलीम अहमद, अल्लाह रक्खा, सोहेल चौधरी याकिब अहमद, नेक मोहम्मद, विजय सिंह, रमन गुप्ता, भगवान सिंह प्रमुख थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News