ट्रांसफर लिस्ट सोशल मीडिया पर लीक होने पर भड़के कश्मीरी पंडित, गुस्साए शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

punjabkesari.in Sunday, Jun 05, 2022 - 01:05 PM (IST)

नेशनल डेस्क: कश्मीर में टारगेट किलिंग के बीच सरकार की ओर से श्रीनगर में सुरक्षित माने जाने वाली जगहों और कश्मीर में जिला मुख्यालयों पर ट्रांसफर किए गए 177 शिक्षकों के नाम सोशल मीडिया पर लीक हो गए हैं। इसके बाद कश्मीरी पंडित शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और इसे अपनी सुरक्षा के साथ खिलवाड़ बताया है। गुस्साए लोगों को कहना है कि हमारी लिस्ट को इस तरह जारी कर आतंकियों को न्योता दिया जा रहा है।  वहीं, बीजेपी ने भी कश्मीरी पंडित कर्मचारियों की स्थानांतरण सूची सार्वजनिक होने पर शनिवार को कड़ी आपत्ति जतायी और इसके लिये जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए इसे सुरक्षा में सेंध करार दिया।

ट्रांसफर लिस्ट वायरल
सूची के अनुसार प्रधानमंत्री पुनर्वास पैकेज के तहत रोजगार पाने वाले 177 कश्मीरी पंडित शिक्षकों का स्थानांतरण किया गया है। स्थानांतरण की सूची व्हाट्सऐप और अन्य सोशल मीडिया मंचों पर साझा की जा रही है। भाजपा प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने एक बयान में कहा, ''स्थानांतरण सूची को सोशल मीडिया मंचों पर सार्वजनिक किया जाना सुरक्षा में बड़ी सेंध है क्योंकि अब आतंकवादियों को यह स्पष्ट अंदाजा हो जाएगा कि उन्हें कहां पदस्थ किया गया है।'

अधिकारियों को फटकार लगाई जाए
उन्होंने सूची लीक होने के मामले में सरकार से कड़ी कार्रवाई करने और उन लोगों का पता लगाने का अनुरोध किया, जिन्होंने ऐसे समय में सूची सार्वजनिक की है जब कश्मीर घाटी में चुनिंदा तरीके से हत्याएं की जा रही हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि इस कृत्य (सूची सार्वजनिक करने) में शामिल अधिकारियों को फटकार लगाई जाए और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। ठाकुर ने कहा कि एक ओर जहां सरकार कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा के लिए गंभीर कदम उठा रही है, वहीं कुछ अधिकारी इन कोशिशों पर पानी फेर रहे हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News