जेपी नड्डा कल राज्य प्रभारियों के साथ करेंगे बैठक, इन मुद्दों पर रहेगा जोर

punjabkesari.in Monday, Sep 26, 2022 - 07:32 PM (IST)

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा मंगलवार को पार्टी की ओर से नियुक्त विभिन्न राज्यों के केंद्रीय प्रभारियों के साथ बैठक करेंगे और आगामी लोकसभा चुनाव सहित अगले साल होने वाले विभिन्न राज्यों के विधानसभा चुनावों के मद्देनजर संगठन को मजबूत करने पर चर्चा करेंगे। नड्डा ने इस महीने की शुरुआत में पार्टी के केंद्रीय पदाधिकारियों व प्रमुख नेताओं को राज्यों और संघशासित प्रदेशों का प्रभार सौंपा था।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पार्टी मुख्यालय में होने वाली इस बैठक में सभी प्रभारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस के मौके पर शुरु किए गए सेवा पखवाड़ा के दौरान आयोजित कार्यक्रमों के साथ ही राज्यों में चलाए गए संगठनात्मक अभियानों के बारे में जानकारी देंगे। सूत्रों ने बताया कि इस दौरान कई राजनीतिक मुद्दों के अलावा अगले साल जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं, वहां के बारे में विशेष रूप से मंथन किया जाएगा। प्रभारियों संग चर्चा के बाद नड्डा पार्टी महासचिवों के साथ भी एक बैठक करेंगे। इस साल के अंत तक हिमाचल प्रदेश और गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं। इन दोनों ही राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं।

हिमाचल में जहां उसके सामने सत्ता बचाए रखने की चुनौती है, वहीं गुजरात में उसके समक्ष अपना गढ़ संभाले रखने की चुनौती है। अगले साल मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, तेलंगाना, त्रिपुरा, मेघालय, नगालैंड और मिजोरम में चुनाव होने हैं। मध्य प्रदेश, कर्नाटक, त्रिपुरा में जहां भाजपा की सरकार है, वहीं तेलंगाना में तेलंगाना राष्ट्र समिति की सरकार है। राजस्थान और छत्तीसगढ़ दो राज्य ऐसे हैं, जहां कांग्रेस की अपने बूते सरकार है।

नड्डा ने नौ सितंबर को पूर्व मुख्यमंत्रियों और पूर्व केंद्रीय मंत्रियों समेत कई वरिष्ठ नेताओं को संगठनात्मक कार्य के लिए विभिन्न प्रदेशों में पार्टी मामलों का प्रभारी नियुक्त किया था। नवनियुक्त प्रभारियों में पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और बिप्लव कुमार देब के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्रियों प्रकाश जावड़ेकर और महेश शर्मा के नाम शामिल हैं। भाजपा ने महासचिव विनोद तावड़े को बिहार का नया प्रभारी और बिहार के पूर्व मंत्री मंगल पांडे को पश्चिम बंगाल का प्रभारी बनाया था। रूपाणी को पंजाब और चंडीगढ़ की जिम्मेदारी दी गई है, जबकि देब को हरियाणा का प्रभारी नियुक्त किया गया है। जावड़ेकर को केरल में पार्टी के कामकाज की जिम्मेदारी सौंपी गई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News