जयशंकर ने अफगानिस्तान के विदेश मंत्री अतमार के साथ की वार्ता

03/23/2021 12:45:34 AM

नई दिल्लीः विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को अफगान के अपने समकक्ष मोहम्मद हनीफ अतमार के साथ व्यापक मामलों पर वार्ता की, जिसमें अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित किया गया।

अफगानिस्तान शांति वार्ताओं पर क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सर्वसम्मति बनाने के प्रयास कर रहा है। जयशंकर और अतमार ने सुरक्षा सहयोग को मजबूत करने, क्षेत्रीय संपर्क सुविधाओं और व्यापार एवं निवेश को बढ़ावा देने समेत अहम मामलों पर चर्चा की। अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया को तेज करने के नए प्रयासों की पृष्ठभूमि में अतमार भारत की तीन दिवसीय यात्रा पर सोमवार दोपहर यहां पहुंचे। 

जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘‘अफगानिस्तान के विदेश मंत्री एम हनीफ अतमार का स्वागत है। शांति प्रक्रिया पर विस्तृत वार्ता हुई। हमारे द्विपक्षीय सहयोग एवं विकास संबंधी साझेदारी पर भी बातचीत हुई।'' विदेश मंत्रालय ने प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि जयशंकर ने अफगानिस्तान को अपने लोगों की इच्छा का सम्मान करने वाले समृद्ध संवैधानिक लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण एवं एकजुट देश बनाने की दिशा में भारत की दीर्घकालीन प्रतिबद्धता दोहराई। 

बागची ने ट्वीट किया, ‘‘भारत-अफगानिस्तान रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाया गया। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने एम हनीफ अतमार का गर्मजोशी से स्वागत किया। विकास संबंधी सहयोग, व्यापार एवं निवेश, क्षेत्रीय संपर्क सुविधा, सुरक्षा सहयोग एवं शांति प्रक्रिया समेत द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय हित के मामलों पर चर्चा हुई।''अतमार की भारत यात्रा से कुछ दिन पहले रूस ने मास्को में अफगान सरकार और तालिबान के बीच एक सम्मेलन की मेजबानी की थी और इस युद्ध प्रभावित देश में संघर्ष-विराम के लिए दबाव बनाया था। 

अफगान विदेश मंत्री अतमार ने कहा कि वह अफगान शांति प्रक्रिया तथा सुरक्षा एवं आर्थिक सहयोग पर जयशंकर एवं वरिष्ठ भारतीय अधिकारियों के साथ वार्ता को लेकर आशान्वित हैं। अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया को तेज करने की पिछले कुछ सप्ताह से नई अंतरराष्ट्रीय कोशिश चल रही है लेकिन हाल के महीनों में तालिबान की बढ़ती हिंसा का उस पर ग्रहण लग रहा है। तालिबान अफगान सरकार के साथ वार्ता में लगा है। जयशंकर और अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन के बीच शनिवार को वार्ता के दौरान अफगान शांति प्रक्रिया का मुद्दा भी उठा था। 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Recommended News