फोन टैपिंग मामला: आईपीएस अधिकारी रश्मि शुक्ला पुलिस के सामने नहीं हुईं पेश

04/28/2021 2:44:46 PM

नेशनल डेस्क: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की विशेष महानिदेशक रश्मि शुक्ला कोविड-19 महामारी का हवाला देते हुए बुधवार को कथित अवैध फोन टैपिंग मामले में पूछताछ के लिए मुंबई पुलिस के साइबर विभाग के सामने पेश नहीं हुईं। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इसके बजाए शुक्ला ने प्रश्नावली उन्हें भेजने की मांग की ताकि वह सवालों का जवाब दे सकें।

साइबर विभाग ने सोमवार को शुक्ला को सम्मन भेजकर उन्हें बुधवार दिन में 11 बजे तक बीकेसी साइबर विभाग में पेश होने के लिए कहा था। शुक्ला वर्तमान में हैदराबाद में तैनात हैं। अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को ई-मेल के जरिये सम्मन का जवाब देते हुए शुक्ला ने कोविड-19 महामारी का हवाला देते हुए आने में असमर्थता जाहिर की। उन्होंने बताया कि वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी ने यह भी अनुरोध किया कि जांच में किसी तरह की देरी से बचने के लिए उन्हें प्रश्नावली भेज दी जाये। अधिकारी ने बताया, पुलिस उनके जवाब से संतुष्ट नहीं है और वह उन्हें फिर से सम्मन भेजने वाली है।

कथित अवैध फोन टैपिंग मामले में मुंबई पुलिस के साइबर विभाग ने सोमवार को शुक्ला के हैदराबाद स्थित आवास पर सम्मन भेजा था। राज्य के खुफिया विभाग की शिकायत पर कथित रूप से अवैध तरीके से फोन टैप कर और कुछ गोपनीय दस्तावेज लीक करने के मामले में शासकीय गोपनीयता कानून के तहत बीकेसी साइबर पुलिस थाना में अज्ञात लोगों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कथित रूप से शुक्ला द्वारा तत्कालीन पुलिस महानिदेशक को पुलिस के तबादले में कथित भ्रष्टाचार को लेकर लिखे गए एक पत्र का हवाला दिया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Hitesh

Recommended News