सिंगापुर में कोविड नियमों का उल्लंघन करने वाले भारतीय को 9 माह जेल की सजा

punjabkesari.in Monday, Jul 12, 2021 - 05:55 PM (IST)

सिंगापुर: सिंगापुर में एक भारतीय को कोविड-19 से संबंधित नियम तोड़ने के जुर्म में 9 महीने की जेल की सजा सुनाई गई है। उसे पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के चरम पर होने के दौरान जब अस्पताल में रहकर अपनी जांच रिपोर्ट आने का इंतजार करने के लिए कहा गया था तब उसने देश छोड़ने की कोशिश की थी। कोविड-19 जांच रिपोर्ट में बालाचंद्रन पार्थीबन (26) के संक्रमित होने की पुष्टि हुई जिसके बाद उसे पुलिस ने चांगी हवाई अड्डे से हिरासत में लिया और वापस सिंगापुर जनरल अस्पताल (SGH) लेकर गई।

 

‘टूडे' अखबार  के मुताबिक  वह सार्वजनिक परिवहन से हवाई अड्डे गया था, उसने भारत के लिए टिकट खरीदने की नाकाम कोशिश की और वह हवाई अड्डे के टर्मिनल एक पर एक घंटे तक यहां-वहां घूमता रहा। बाद में विदेशी कामगार पृथक-वास के नियम को तोड़ते हुए फिर से हवाई अड्डे पहुंचा और स्वदेश वापस जाने की फिर से कोशिश की। उसने मई में कोविड नियमों के उल्लंघन के विभिन्न आरोपों को स्वीकार कर लिया था जिसमें दूसरों के लिए कोविड-19 का खतरा पैदा करना, बिना इजाजत पृथक-वास के क्षेत्र को छोड़ना शामिल है। उसके निशुल्क वकील कोरी वॉन्ग ने उसकी मनोस्थिति का आकलन कराने के लिए अदालत से उसे मानसिक स्वास्थ्य संस्थान (IMH) भेजने का आग्रह किया।

 

IMH में चार हफ्ते रहने के बाद पिछले साल मई में जुर्म के वक्त बालचंद्रन के समन्वय विकार से पीड़ित था और उसे भावनाओं और आचरण करने में अंतर करने में परेशानी थी। बहरहाल, डॉ स्टेफन फांग ने कहा कि वह मानसिक तौर पर अस्थिर नहीं है और उसमें सही और गलत में अंतर करने की क्षमता थी। उप लोक अभियोजक नॉर्मन यू ने बालचंद्रन के लिए 10 महीने की जेल मांगी, जबकि वॉन्ग ने साढ़े छह महीने सज़ा का आग्रह किया। सज़ा सुनाने के दौरान, जिला न्यायाधीश रोनाल्ड ग्वी ने दूसरों को संक्रमण के प्रति जोखिम में डालने और एक स्वास्थ्य अधिकारी के प्रति अपमानजनक शब्दों का उपयोग करने के दो अन्य आरोपों पर विचार किया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News