भारत, मालदीव ने सामुदायिक परियोजनाओं के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए

2021-07-24T05:48:22.723

नई दिल्लीः विदेश मंत्री एस जयशंकर और उनके मालदीव के समकक्ष अब्दुल्ला शाहिद ने शुक्रवार को मालदीव में भारत द्वारा वित्त पोषित सामुदायिक परियोजनाओं से संबंधित एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। साथ ही, दोनों नेताओं ने आपसी हितों के द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर व्यापक बातचीत की। मालदीव के नेता, जिन्हें पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र के लिए अध्यक्ष निर्वाचित किया गया, बुधवार को तीन दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे। 
PunjabKesari
जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘‘मालदीव में भारत द्वारा वित्त पोषित सामुदायिक परियोजनाओं पर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गये। पड़ोस सबसे पहले है।’’ जयशंकर ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘अब्दुल्ला शाहिद के साथ गर्मजोशी से मुलाकात की। यूएनजीए अध्यक्ष के रूप में उनकी प्राथमिकताओं पर चर्चा की। उन्हें भारत से पूर्ण समर्थन का वादा किया।’’

शाहिद ने ट्वीट किया, ‘‘मेरे प्रिय मित्र विदेश मंत्री डा एस जयशंकर से मिलकर अच्छा लगा। उनकी व्यक्तिगत प्रतिबद्धता के कारण मालदीव भारत साझेदारी मजबूत हुई है! मैंने उनके निरंतर समर्थन के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। हमने विभिन्न वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।’’ इससे पहले, शाहिद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने उन्हें आश्वस्त किया कि उनके अध्यक्षीय कार्यकाल के दौरान भारत पूरा सहयोग करेगा।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री मोदी ने शानदार जीत के लिए शाहिद को बधाई दी और कहा कि उनका निर्वाचन विश्व स्तर पर मालदीव के बढ़ते कद को दर्शाता है। इसमें कहा गया है, ‘‘प्रधानमंत्री ने दुनिया की वर्तमान वास्तविकताओं और दुनिया की अधिकांश आबादी की आकांक्षाओं को प्रतिबिंबित करने के लिए बहुपक्षीय प्रणाली में सुधार के महत्व पर जोर दिया।’’


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Recommended News